स्टरलाइट पावर को चालू वित्त वर्ष के पहले नौ माह में मिले 3,800 करोड़ रुपये के ऑर्डर

img

स्टरलाइट पावर को चालू वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तीन तिमाहियों (अप्रैल-दिसंबर) में 3,800 करोड़ रुपये के ऑर्डर मिले हैं। यह पिछले साल की समान अवधि मुकाबले 90 प्रतिशत अधिक है। कंपनी ने सोमवार को बयान में कहा कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-दिसंबर की अवधि के दौरान घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजारों उसकी ‘समाधान’ कारोबार इकाई को ये ऑर्डर मिले हैं। यह पिछले वित्त वर्ष 2021-22 की समान अवधि की तुलना में 90 प्रतिशत अधिक है। स्टरलाइट पावर एक अग्रणी बिजली पारेषण डेवलपर और समाधान प्रदाता कंपनी है।

बयान में कहा गया है कि प्राप्त हुए नए ऑर्डर, पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (पीजीसीआईएल), मेघालय पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (एमईपीटीसीएल) और पश्चिम बंगाल स्टेट इलेक्ट्रिसिटी ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड (डब्ल्यूबीएसईटीसीएल) जैसे राज्य उपक्रमों के 132 केवी, 220 केवी और 400 केवी के मौजूदा बिजली पारेषण लाइनों के उन्नयन के लिए के लिए हैं। हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड (एचवीपीएनएल) के लिए कंपनी 66 केवी, 132 केवी, 220 केवी और 400 केवी के राज्य के मौजूदा ट्रांसमिशन नेटवर्क के ‘फाइबराइजेशन’ के लिए ओपीजीडब्ल्यू की आपूर्ति और स्थापना करेगी।

कंपनी ने महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड (एमएसईटीसीएल) और राजस्थान राज्य विद्युत प्रसार निगम लिमिटेड (आरवीपीएनएल) जैसे राज्य उपक्रमों को अति उच्च वोल्टेज (ईएचवी) केबलों की आपूर्ति के लिए रणनीतिक ऑर्डर भी हासिल किए हैं। स्टरलाइट पावर के भारत में पारेषण कारोबार के निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मनीष अग्रवाल ने बयान में कहा, ‘‘तेजी से बढ़ती आबादी, बढ़ती मांग और पुराने बुनियादी ढांचे के कारण बढ़ते दबाव का सामना करने वाली बिजली उपक्रमों को इनके उन्नयन की तत्काल आवश्यकता है।’’

 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement