हमले के बाद पिता के समर्थन में आईं संघमित्रा मौर्य, बोलीं- अबकी बार स्वामी प्रसाद

img

नई दिल्ली, बुधवार, 02 मार्च 2022। मंगलवार को यूपी विधानसभा चुनाव के छठे चरण का प्रचार समाप्त हो गया। छठे चरण में 3 मार्च को यूपी के 10 जिलों की 57 सीटों पर वोटिंग होगी। मंगलवार को कुशीनगर की फाजिलनगर सीट पर राजनीतिक घमासान चरम पर पहुंच गया। फाजिलनगर विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी स्वामी प्रसाद मौर्य की कार पर हमले की खबर सुनने के बाद उनकी बेटी बीजेपी सांसद संघमित्रा मौर्य बीजेपी कार्यकर्ताओं पर खुलकर बरसीं। इतना ही नहीं उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर उन्हें घेरने का आरोप लगाते हुए फाजिलनगर की महिलाओं से अपने पिता को वोट देने की अपील की।

गौरतलब है कि कल शाम फाजिलनगर के गौड़रिया नामक स्थान पर सपा और भाजपा कार्यकर्ता आमने सामने आ गए थे। दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच अचानक झगड़ा शुरू हो गया। मारपीट होने लगी। पत्थर चले और कई गाड़ियों के शीशे टूट गए। इसके बाद स्वामी प्रसाद मौर्या मौके पर पहुंचे और धरने पर बैठ गए। दूसरी तरफ आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ता भी तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के नुनियापट्टी चौराहे पर सड़क जाम करने लगे। इस बीच स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य भी घटनास्थल पर पहुंची। उन्होंने मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान आरोप लगाया कि पिता के ऊपर हमले की सूचना पर यहां आ रही थी तो रास्ते में भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका घेराव किया। उन्होंने फाजिलनगर की जनता खास करके महिलाओं से अपने पिता को वोट देने की अपील की।

आपको बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने यूपी चुनाव की हलचल शुरू होते ही 11 जनवरी को योगी सरकार पर कई आरोप लगाते हुए कैबिनेट मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। वो 14 जनवरी को अपने समर्थकों के साथ सपा में शामिल हो गए थे। जब स्वामी प्रसाद मौर्य सपा में शामिल हुए तब सपने यही सोचा था कि बदायूं से सांसद संघमित्रा मौर्य भी अपने पिता के साथ सपा में चली जाएंगी। लेकिन उन्होंने बतौर पार्टी सांसद बीजेपी में ही रहने का निर्णय लिया। तब उन्होंने कहा था कि वह कहीं नहीं जा रही है। पिता के दूसरी पार्टी में जाने का मतलब यह नहीं है कि वह बीजेपी छोड़ देंगी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement