प्रयागराज में माघी पूर्णिमा पर 4.50 लाख लोगों ने गंगा में डुबकी लगाई

img

प्रयागराज (उप्र), बुधवार, 16 फरवरी 2022। संगम नगरी प्रयागराज में माघ मेले के पांचवें स्नान पर्व माघी पूर्णिमा के अवसर पर बुधवार को पूर्वाह्न 11 बजे तक लगभग 4.50 लाख लोगों ने गंगा और संगम में स्नान किया। प्रयागराज मेला प्राधिकरण के एक अधिकारी ने बताया कि भोर से ही श्रद्धालुओं का संगम क्षेत्र में आना जारी है और पूर्वाह्न 11 बजे तक करीब 4.50 लाख लोगों ने गंगा और संगम में डुबकी लगाई, जिसमें बच्चे, बुजुर्ग और महिलाएं शामिल हैं। माघी पूर्णिमा स्नान के साथ कल्पवासियों का एक माह का कल्पवास (संगम के तट पर रहकर वेदाध्ययन और ध्यान एवं पूजा करना) बुधवार को पूरा हो गया और उन्होंने मेला क्षेत्र से अपने घरों के लिए प्रस्थान शुरू कर दिया है। माघी पूर्णिमा का मुहूर्त रात्रि 10:25 बजे तक है और लोगों के देर शाम तक गंगा स्नान करने की संभावना है।

माघ मेला क्षेत्र में शिविर के आयोजक पंडित प्रभात पांडेय ने बताया कि माघ मास की पूर्णिमा को धर्म ग्रंथों में माघी पूर्णिमा कहा गया है और इस दिन गंगा स्नान कर विष्णु भगवान की पूजा करने और इसके पश्चात पितरों का श्राद्ध करने का विधान है। जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने बताया कि माघ मेले के अंतिम स्नान पर्व माघी पूर्णिमा पर माघ मेला क्षेत्र में पुलिस की चाक चौबंद व्यवस्था की गई है। लगभग 5,000 पुलिसकर्मियों को यहां तैनात किया गया है और 150 से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

उन्होंने बताया कि आग के खतरों से निपटने के लिए दमकल की कई गाड़ियां और लोगों को पानी में डूबने से बचाने के लिए 108 गोताखोरों की टीम तैनात की गई हैं। इसके अलावा एकीकृत कमान नियंत्रण केंद्र से भीड़ पर नजर रखी जा रही है। पुलिस अधीक्षक (माघ मेला) राजीव नारायण मिश्र ने बताया कि माघ मास समाप्त होने के बाद कल्पवासियों की सुगम एवं सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए 15 फरवरी की रात्रि 12 बजे से 17 फरवरी को रात्रि 10 बजे तक संगम क्षेत्र में प्रशासनिक एवं एंबुलेंस को छोड़कर सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित किया गया है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement