सोमवार को पुतिन आएंगे, वार्षिक शिखर बैठक में भाग लेंगे

img

नई दिल्ली, शनिवार, 04 दिसम्बर 2021। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सोमवार को यहां भारत-रूस 21 वीं वार्षिक शिखर बैठक में भाग लेंगे तथा इसी दिन दोनों देशों के विदेश एवं रक्षा मंत्रियों की प्रथम टू प्लस टू बैठक भी आयोजित की जाएगी। विदेश मंत्रालय के अनुसार रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव एवं रक्षा मंत्री सर्गेई शोयगु रविवार देर रात नयी दिल्ली पहुंचेंगे। श्री लावरोव सोमवार को सुबह साढ़े दस बजे विदेश मंत्री एस जयशंकर से सुषमा स्वराज भवन में मुलाकात करेंगे। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह श्री सर्गेई शोयगु से भेंट करेंगे। साढ़े 11 बजे प्रथम भारत रूस टू प्लस टू बैठक सुषमा स्वराज भवन में होगी।

विदेश मंत्रालय के अनुसार रूस के राष्ट्रपति श्री पुतिन छह दिसंबर को राजधानी पहुंचेंगे। टू प्लस टू बैठक संपन्न होने के बाद वह शाम साढ़े पांच बजे हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री श्री मोदी के साथ भारत रूस वार्षिक शिखर बैठक में हिस्सा लेंगे। वार्षिक शिखर बैठक में दोनों देशों के विदेश एवं रक्षा मंत्रियों के मौजूद रहने की संभावना है। दोनों बैठकों से भारत एवं रूस के बीच विशेष एवं विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझीदारी को नया बल मिलेगा। रूसी राष्ट्रपति और वहां के विदेश एवं रक्षा मंत्री सोमवार रात को ही स्वदेश लौट जाएंगे।

सूत्रों के अनुसार सोमवार का दिन भारत एवं रूस के विशेष एवं विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझीदारी के खास होगा जब रूस के राष्ट्रपति, विदेश मंत्री एवं रक्षा मंत्री नयी दिल्ली में होंगे। सूत्रों के मुताबिक टू प्लस टू बैठक में समान हितों के राजनीतिक एवं रक्षा संबंधी मुद्दों पर चर्चा होगी। इस बैठक में अफगानिस्तान के मुद्दे पर भी विशेष रूप से चर्चा होने की संभावना है। भारत एवं रूस के बीच टू प्लस टू बैठक शुरू करने के बारे में प्रधानमंत्री श्री मोदी एवं श्री पुतिन के बीच अप्रैल में हुई वर्चुअल बैठक में सहमति बनी थी। पिछली भारत रूस वार्षिक शिखर बैठक सितंबर 2019 में व्लाडीवोस्टक में हुई थी जब प्रधानमंत्री श्री मोदी रूस में पांचवीं ईस्टर्न इकॉनोमिक समिट में बतौर विशिष्ट अतिथि शामिल होने गये थे। पिछले वर्ष कोविड महामारी के कारण वार्षिक शिखर बैठक नहीं हो पायी थी। इस बीच दोनों नेताओं के बीच छह मौकों पर बहुपक्षीय मंचों की वर्चुअल बैठकों में संवाद हो चुका है। नवंबर 2019 में ब्राज़ीलिया में ब्रिक्स शिखर बैठक में मुलाकात के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली आमने सामने की मुलाकात होगी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement