लाहौर हाईकोर्ट ने जमात-उद-दावा के छह सदस्यों को किया बरी

img

लाहौर, रविवार, 07 नवम्बर 2021। लाहौर हाईकोर्ट ने वर्ष 2008 के मुंबई हमले के लिए जिम्मेदार हाफिज मुहम्मद सईद के नेतृत्व वाले जमात-उद-दावा के छह सदस्यों को आतंकवाद के वित्तपोषण के मामले में बरी कर दिया है। काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट (सीटीडी) ने आतंकवाद के वित्तपोषण मामले में जमात-उद-दावा के छह सदस्यों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार आतंकवाद-रोधी कोर्ट ने तीन अप्रैल 2021 को जमात-उद-दावा के इन सदस्यों को दोषी ठहराया था। इससे पहले, निचली अदालत ने जमात-उद-दावा के सदस्यों- मलिक जफर इकबाल, याह्या मुजाहिद, नसरुल्ला, समीउल्लाह और उमर बहादुर को नौ साल कैद की सजा सुनाई थी। हाफिज अब्दुल रहमान मक्की को छह महीने की जेल की सजा दी गई थी। जमात-उद-दावा ने सदस्यों ने निचली अदालत के इस फैसले को लाहौर हाईकोर्ट की खंडपीठ के समक्ष चुनौती दी थी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement