भारत, सेनेगल ने स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिये सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किया

img

नई दिल्ली, शनिवार, 06 नवम्बर 2021। भारत और सेनेगल ने स्वास्थ्य एवं दवा के क्षेत्र में सहयोग और सेनेगल के राजनयिकों को प्रशिक्षित करने को लेकर सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए और कारोबार एवं निवेश, विकास गठजोड़, स्वास्थ्य, शिक्षा, रेल, रक्षा एवं सुरक्षा, कृषि सहित आपसी हितों से जुड़े सभी विषयों पर विस्तृत चर्चा की । विदेश मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय के बयान के अनुसार, विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने 4-5 नवंबर को सेनेगल की अधिकारिक यात्रा के दौरान इन सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर किये गए । मुरलीधरन तीसरी भारत-सेनेगल संयुक्त आयोग की बैठक में हिस्सा लेने डकार गए हुए थे ।  इसमें कहा गया है कि विदेश राज्य मंत्री मुरलीधरन ने सेनेगल की विदेश मंत्री आसिस्ता टॉल सॉल के साथ संयुक्त आयोग की बैठक की सह अध्यक्षता की । बयान के अनुसार, दोनों पक्षों ने कारोबार एवं निवेश, विकास गठजोड़, स्वास्थ्य, शिक्षा, रेल, रक्षा एवं सुरक्षा, कृषि, ऊर्जा, संस्कृति, भारतीय समुदाय से संबंधित मामलों सहित आपसी हितों से जुड़े सभी विषयों पर विस्तृत चर्चा की ।

मंत्रालय के अनुसार, ‘‘ दोनों पक्षों ने इन क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर सहमति व्यक्त की।’’ इसमें कहा गया है कि इस दौरान दोनों पक्षों ने स्वास्थ्य एवं दवा के क्षेत्र में सहयोग और सेनेगल के राजनयिकों को प्रशिक्षित करने को लेकर सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए । मुरलीधरन और सेनेगल की विदेश मंत्री ने दोनों देशों के राजनयिक संबंधों के 60 वर्ष होने के अवसर पर स्मारक डाक टिकट जारी किया । मंत्रालय के बयान के अनुसार, विदेश राज्य मंत्री मुरलीधरन ने अपनी यात्रा के दौरान सेनेगल के राष्ट्रपति मैकी सॉल से भेंट की । इस अवसर पर राष्ट्रपति मैकी सॉल ने भारत और सेनेगल के संबंधों के विशिष्ट स्वरूप का उल्लेख किया और इसकी पूर्ण क्षमता हासिल करने के लिये सम्पर्क जारी रखने की इच्छा जतायी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement