दिल्ली में मध्यम बारिश के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’

img

नई दिल्ली, बुधवार, 22 सितम्बर 2021। राष्ट्रीय राजधानी में मौसम विभाग ने बुधवार को ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है, जिसके तहत मध्यम बारिश हो सकती है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, इस साल मानसून के दौरान दिल्ली में बुधवार सुबह तक 1164.7 मिमी बारिश हुई, जो 1964 के बाद से सबसे अधिक, और आंकड़ों को जब से एकत्रित किया जा रहा है, तब से सबसे अधिक बारिश की सूची में तीसरे नंबर पर है। दिल्ली में 1975 में 1,155.6 मिमी और 1964 में 1,190.9 मिमी बारिश हुई थी।

आईएमडी के अधिकारियों के अनुसार, सितंबर अंत तक बारिश के रुक-रुककर होने का अनुमान है। यह दिल्ली में अब तक का दूसरा सबसे अधिक बारिश वाला मानसून बन सकता है। अधिकारी ने कहा, ‘‘ बुधवार को पश्चिमी विक्षोभ और नमी से लदी पूर्वी हवाओं के बीच सम्पर्क के कारण हल्की बारिश का अनुमान है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वी राजस्थान पर बना हुआ है।’’ बृहस्पतिवार को भी हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है। आईएमडी के अनुसार, 15 मिमी से कम वर्षा को ‘हल्की’ , 15 से 64.5 मिमी के बीच ‘मध्यम’, 64.5 मिमी और 115.5 मिमी के बीच ‘भारी’, 115.6 से 204.4 मिमी के बीच ‘बेहद भारी’ और 204.4 मिमी से अधिक बारिश को ‘अत्यधिक भारी’ वर्षा की श्रेणी में माना जाता है।

दिल्ली में सितंबर में अभी तक 400 मिमी से अधिक बारिश हो चुकी है। बुधवार की सुबह तक 408.3 मिमी बारिश दर्ज की गई थी, जो सितंबर 1944 के बाद से इस महीने में दर्ज की गई अधिकतम वर्षा है, जब 417.3 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। राष्ट्रीय राजधानी में आमतौर पर मानसून में 653.6 मिमी बारिश होती है, पिछले साल 648.9 मिमी बारिश हुई थी। एक जून से 21 सितंबर के बीच आमतौर पर 625.8 मिमी बारिश होती है। दिल्ली में 25 सितंबर से मानसून लौटने लगता है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement