मध्य प्रदेशः शराबबंदी आंदोलन के ऐलान से सियासी हलचल तेज

img

  • उमा भारती ने दी कड़े प्रर्दशन की चेतावनी

भोपाल, सोमवार, 20 सितम्बर 2021। मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती की सक्रियता एक बार फिर बढ़ने के आसार नजर आने लगे हैं क्योंकि वो राज्य में शराबबंदी की मांग को लेकर आंदोलन करने की तैयारी में है। उनके इस ऐलान ने राज्य में सियासी हलचल तेज कर दी है। उन्होंने बीते काफी अरसे से राज्य में शराबबंदी किए जाने की मांग कर रही हैं। पिछले दिनों उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में बलात्कार, छेड़खानी और दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं। इन सब का मुख्य कारण शराब पीना है। शराबियों की खुलेआम सड़क पर घूमने से राज्य की बहन और बेटियां सुरक्षित महसूस नहीं करती है। इसलिए मध्य प्रदेश जैसे शांति प्रिय राज्य में शराबबंदी बहुत जरूरी है।

उमा भारती ने कहा है कि वह शराबबंदी के पक्ष में है। इसके साथ ही भरोसा करती हैं कि राज्य सरकार शराबबंदी का फैसला करेगी। ऐसा नहीं होता है तो इसके खिलाफ महिलाओं के साथ सड़कों पर उतरेगी। उन्होंने शराबबंदी की मांग को लेकर 19 अक्टूबर से अभियान शुरू करने का ऐलान किया है और वह जनवरी माह में सड़क पर उतरने की भी तैयारी में है। इतना ही नहीं वह तो यह भी मानती हैं कि शराबबंदी के लिए लट्ठ की जरूरत पड़ेगी।

उमा भारती के शराबबंदी आंदोलन को लेकर दिए गए बयान के बाद से कांग्रेस की बांछें खिली हुई है। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ की मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा का कहना है कि कांग्रेस उमा भारती के इस फैसले का स्वागत करती है। उनकी इस घोषणा में कांग्रेस उनके साथ रहेगी। साथ ही वह उमा भारती की 2 फरवरी को की गई घोषणा को याद दिलाते हैं और कहते हैं कि उमा भारती ने 8 मार्च महिला दिवस से नशा मुक्ति अभियान शुरू करने का ऐलान किया था, लेकिन अभियान चला ही नहीं और अभियान की घोषणा कर गायब हो गई। दूसरी ओर प्रदेश में शराब माफियाओं ने कहर बरपा कर कई बेगुनाहों की जान तक ले ली।

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि उमा भारती की राज्य की सियासत में दखल बढ़ाने में रुचि है। किसी दौर में उनके पास समर्थकों की फौज हुआ करती थी, अब वह धीरे-धीरे कम हो रही है। यह बात वे खुद जानती है, यही कारण है कि राज्य के दौरे कर वह अपनी उपस्थिति दर्ज करा जाती है। शराबबंदी जैसा आंदोलन उनकी आधी आबादी में गहरी पैठ बना सकती है। यही कारण है कि वे अब राज्य में सबसे ज्यादा बात शराबबंदी की करती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement