यहां 2 किलो वजनी अनोखे पीले रंग के कछुए को देखने के लिए उमड़ी भीड़

img

ओडिशा के भद्रक जिले में पीले रंग का एक दुर्लभ कछुआ देखा गया और उसे सुरक्षित रूप से बचा लिया गया। सूत्रों के अनुसार भद्रक जिले के चांदबली प्रखंड के एक स्थानीय स्कूल शिक्षक ने सोमवार को करीब 2 किलो वजनी अनोखे पीले रंग के कछुए को बचाया। उन्होंने स्थानीय वन अधिकारियों को सूचित किया और कछुआ उन्हें सौंप दिया। दुर्लभ कछुए को देखने के लिए लोग बड़ी संख्या में उनके घर पर जमा हो गए। बाद में वन अधिकारियों ने कछुए को बैतरनी नदी में छोड़ा।

ओडिशा के प्रमुख मुख्य वन संरक्षक (पीसीसीएफ), वन्यजीव शशि पॉल ने आईएएनएस को बताया, "12 जुलाई को चंदबली वन्यजीव रेंज से बैतरनी नदी से एक अल्बिनो इंडियन फ्लैपशेल कछुए (लिसेमी का पंक्टाटा) को बचाया गया था। इसे पशु चिकित्सक से परामर्श के बाद छोड़ा गया था।" पिछले साल इसी महीने, बालासोर जिले के सोरो ब्लॉक के सुजानपुर गांव से स्थानीय लोगों के एक समूह ने एक पीले कछुए को बचाया था। उस वक्त सांप की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए थे।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement