बंगाल से सांसद मिमी ने फर्जी टीकाकरण शिविर का किया भंडाफोड़

img

कोलकाता, गुरुवार, 24 जून 2021। कोलकाता पुलिस ने तृणमूल कांग्रेस सांसद मिमी चक्रवर्ती की शिकायत के आधार पर शहर के दक्षिणी छोर पर स्थित कस्बा नामक इलाके में कथित तौर पर फर्जी टीकाकरण शिविर चलाने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। अभिनेत्री व पॉलिटिशियन मिमी को शक तब हुआ, जब बुधवार शाम को कैंप से टीका लगवाने के बाद भी उन्हें कोई आधिकारिक कन्फर्मेशन मैसेज नहीं मिला। इसके बाद मिमी ने पुलिस में अपनी शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस ने तुरंत दक्षिण कोलकाता से देबांजन देव को गिरफ्तार कर लिया, जिसने कथित तौर पर खुद को एक आईएएस अधिकारी बताते हुए हजारों की तादात में लोगों के टीकाकरणों को अंजाम दिया। अब सवाल यह उठ रहा है कि इन्हें दी गई टीके की खुराक असली थी या नकली। ऐसे में फिलहाल इस शिविर को लेकर एक बड़ी जांच की जाएगी। मिमी ने कहा कि शिविर में मुख्य अतिथि बनने को लेकर उनसे संपर्क किया था और उन्होंने वहां जाकर अपना टीकाकरण भी कराया ताकि लोगों को इस दिशा में प्रेरित कर सके। इस कैंप में कई 250 लोगों ने टीका लगवाया है।

मिमी कहती हैं, "लोगों को टीकाकरण के लिए उत्साहित करने के लिए मैंने कैंप में कोविशील्ड वैक्सीन की खुराक ली। लेकिन मुझे कोविन से कोई कन्फर्मेशन मैसेज नहीं मिला।" मिमी ने पाया कि कोविड में रजिस्ट्रेशन कराने के लिए लोगों से आधार कार्ड के डिटेल्स लिए जा रहे हैं, लेकिन वैक्सीन लेने के बाद किसी को कोई मैसेज नहीं आ रहा है। पुलिस अब लोगों को दिए गए खुराकों की जांच कर रही है। पता लगाया जा रहा है कि क्या इन वैक्सीनों की एक्सपायरी डेट आगे निकल गई थी या नहीं। नकली वैक्सीन के मामले की संयुक्त रूप से जांच कर रही कोलकाता पुलिस और केएमसी को पता चला है कि देव ने एमहस्र्ट स्ट्रीट सिटी कॉलेज में एक और कैंप लगाया था, जहां प्रोफेसरों और उनके परिवारों सहित 70 लोगों को टीका लगाया गया था।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement