आज है सोम प्रदोष व्रत

img

हिंदू धर्म में प्रदोष व्रत की खास मान्यता होती है। इस दिन महादेव तथा माता पार्वती की पूजा अर्चना की जाती है। प्रत्ये माह के दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। इस दिन उपवास करने से कुंडली में शनि प्रदोष का प्रभाव कम होता है। इस बार प्रदोष व्रत 07 जून को सोमवार तिथि को पड़ रहा है, इसलिए इस प्रदोष व्रत को सोम प्रदोष बोलते हैं। प्रदोष व्रत के दिन पूजा पाठ करने से धन की परेशानी दूर हो जाती है। आइए जानते हैं इस दिन किन उपायों को करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

सोम प्रदोष व्रत के दिन पूजा-पाठ करने की खास अहमियत होती है। इस दिन दूध में गुड़ मिलाकर महादेव का जल अभिषेक करना चाहिए। इससे घर में धन वृद्धि के संयोग बनते हैं। सोम प्रदोष व्रत के दिन शाम के वक़्त में महादेव की आराधना करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है। इस दिन विधि विधान से उपवास करने से अशुभ प्रभावों से छुटकारा मिलता है। यदि कोई शख्स मूंगा धारण करने की सोच रहा है तो सबसे उत्तम दिन है। वही यदि आप किसी प्रकार के रोग से पीड़ित है तो महामृत्युंजय मंत्र का 108 बार जाप करें। इन मंत्रों का जाप करने से सभी समस्याएं दूर हो जाएंगी। ऐसा करने से आप स्वस्थ रहेंगे। सोम प्रदोष व्रत के दिन महादेव पर कच्चे दूध का अभिषेक करना चाहिए। इसके अतिरिक्त इस दिन शिव महिम्नस्तोत्र का जाप करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

प्रदोष व्रत का महत्व:-

  • प्रदोष व्रत की पूजा करने से मनुष्य की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है। जिन लोगों की कुंडली में चंद्रमा का बुरा प्रभाव हो उन्हें निष्ठा तथा नियम पूर्वक व्रत रखना चाहिए। इसके अतिरिक्त ये व्रत संतान प्राप्ति के लिए बेहद महत्वपूर्ण होता है।

शुभ मुहर्त:-

  • सोम प्रदोष व्रक का प्रारंभ- 07 जून प्रातः 08 बजकर 47 मिनट से
  • सोम प्रदोष व्रत समापन- 08 जून  रात 11 बजकर 24 मिनट पर होगा
  • पूजा का शुभ मुहूर्त- 07 जून को शाम 07 बजकर 17 मिनट से 09 बजकर 18 मिनट तक रहेगा।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement