2013 में हुए दंगों का मामला : हिरासत में लिए गए आप विधायक अखिलेश त्रिपाठी

img

नई दिल्ली, शुक्रवार, 01 नवम्बर 2019। आम आदमी पार्टी (आप) विधायक अखिलेशपति त्रिपाठी को 2013 में हुए दंगों के मामले में शुक्रवार को हिरासत में लेकर विशेष सीबीआई न्यायाधीश अजय कुमार कुहर के समक्ष पेश किया गया। बार-बार अदालत की सुनवाई में शामिल नहीं होने पर त्रिपाठी और दो अन्य के खिलाफ एक गैर-जमानती वारंट (एनबीडब्ल्यू) जारी किया गया था। इस मामले की सुनवाई रोज एवेन्यू कोर्ट में चल रही है। इस केस में कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई की तारीख दी थी। जैसे ही त्रिपाठी कोर्ट पहुंचे, पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। त्रिपाठी पर 2013 में दंगे भडक़ाने का आरोप है, जिसमें 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। उस वक्त त्रिपाठी विधायक नहीं थे। तब आप कार्यकर्ताओं ने एक डेड बॉडी को रखकर विरोध प्रदर्शन किया था। त्रिपाठी पर अपने माता-पिता के नाम पर फर्जी मेडिकल बिल पास कराने का भी आरोप है। 

दंगे भडक़ाने की कोशिश के मामले में दिल्ली पुलिस की तरफ से कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की गई। तीन एफआईआर दर्ज की गई थी, जिसमें गवाहों के अपने बयान से पलट जाने के बाद एक केस में त्रिपाठी को कोर्ट ने बरी कर दिया था। मेडिक्लेम घोटाले में भी उन्हें पटियाला हाउस कोर्ट मे पेश होकर बेल लेनी पड़ी थी। त्रिपाठी पर नकली बिल लगाकर धोखाधड़ी से लाखों रुपए के फर्जी बिल पास कराने का आरोप है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement