पीएमसी बैंक घोटाले का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

img

  • तीनों आरोपी न्यायिक हिरासत में भेजे गए

नई दिल्ली, बुधवार, 16 अक्टूबर 2019। पीएमसी घोटाला का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। पीएमसी घोटाले को लेकर शीर्ष अदालत में एक याचिका दायर की गई है। जिसको लेकर 18 अक्तूबर से सुनवाई होगी। दूसरी ओर घोटाले के तीन आरोपियों को मुंबई की अदालत ने 23 अक्तूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। दायर याचिका के संबंध में शीर्ष अदालत ने कहा है कि वह बिजॉन मिश्रा की याचिका पर 18 अक्तूबर को सुनवाई करेगा। अपनी याचिका में बिजॉन मिश्रा ने पंजाब और महाराष्ट्र बैंक (पीएमसी) जमाकर्ताओं के लिए 15 लाख से अधिक की सुरक्षा और 100% बीमा सुरक्षा के निर्देश की मांग की है।  वहीं, बुधवार को मुंबई की एस्प्लेनेड अदालत ने पीएमसी बैंक मामले में आरोपी राकेश वधावन, सारंग वधावन और वरियाम सिंह को 23 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इससे पहले घोटाले में फंसे पंजाब एंड महाराष्ट्र सहकारी बैंक (पीएमसी) के ग्राहकों को अपनी मेहनत की कमाई डूबने का डर सताने लगा है। इस सदमे में 24 घंटे के अंदर दो ग्राहकों की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। जबकि एक ने आत्महत्या कर ली।

दिल के दौरे का शिकार हुए संजय गुलाटी (51) के परिवार के 90 लाख रुपये बैंक में जमा थे, जबकि खुदकुशी करने वाली निवेदिता बिजलानी (39) पेशे से डॉक्टर थीं। एक अन्य व्यक्ति फत्तोमल पंजाबी की भी हार्ट अटैक से मौत हो गई। ओशिवारा निवासी संजय गुलाटी ने सोमवार को 80 साल के पिता सीएल गुलाटी के साथ कोर्ट के बाहर हुए प्रदर्शन में हिस्सा लिया था। सीएल गुलाटी ने बताया कि, भारी तनाव में चल रहे संजय को सोमवार रात डिनर के बाद दिल का दौरा पड़ा और मौत हो गई। हलांकि सोमवार को ही आरबीआई ने पैसा निकालने की सीमा बढ़ाकर 40 हजार रुपये की थी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement