चालीस के बाद महिलाओं में वजन बढ़ने का कारण है ये, सही दिनचर्या से घटा सकती हैं वजन

img

चालीस साल के बाद ज्यादातर महिलाओं के साथ देखा गया है कि उनका वजन एकदम से बढ़ने लगता है। सारे जतन करने के बावजूद वो खुद को मोटा होने से रोक नहीं पाती हैं। इन सब का कारण है मेनोपॉज। जी हां मासिक चक्र की प्रक्रिया के खत्म होने के कारण महिलाओं में हार्मोन्स का असंतुलन होने लगता है जिसकी वजह से वजन बढ़ने लगता है। वैसे तो मोटापा अपने आप में एक बड़ी बीमारी है जिसकी वजह से डायबिटीज, ब्लड प्रेशर और हार्ट की परेशानी हो जाती है। इसलिए जरूरत है कि इस वक्त महिलाएं अपने स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखें। आइए जाने वो कौन से तरीके हैं जिन्हें महिलाओं को अपनाना चाहिए।

रोजाना करें व्यायाम

रोजाना व्यायाम करने का मतलब यह नहीं है कि महिलाएं जिम में ही पसीना बहाए क्योंकि बहुत सी घरेलू महिलाओं के लिए ऐसा करना संभव नहीं होता। इसलिए महिलाओं को योग, वॉक या फिर रनिंग जो संभव हो सके करना चाहिए। शुरुआत में कुछ दिन भले ही आपको समय न मिले लेकिन एक बार दिनचर्या में शामिल करने के बाद आपको इसकी आदत पड़ जाएगी।

 

खानपान

अगर आपको फास्टफूड या चटपटा तैलीय खाना पसंद है तो इससे परहेज करें। खुद को स्वस्थ रखने के लिए फल, सब्जियां, दाल और ड्राईफ्रूट्स को शामिल करें। इस तरह का खानपान पाचन क्रिया को दुरुस्त रखेगा और बीमारियों को दूर रखने में मदद करेगा।

तनाव कम लें
रोजाना के काम को लेकर तनाव कम पालें क्योंकि हार्मोन में हुए बदलाव के कारण तनाव झेलने की क्षमता पर असर पड़ता है। इसलिए कोशिश करें कि कम से कम तनाव लें जिससे स्ट्रेस इंड्यूस ओवरइटिंग से भी बचा जा सकता है।

नींद है जरूरी
रोजाना सात से आठ घंटे की नींद बहुत जरूरी है। इससे शरीर को आराम मिलता है और अतिरिक्त फैट को बर्न होने का समय मिल जाता है। क्योंकि कई सारे शोध बताते हैं कि जो लोग पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं उनमें मोटापे की समस्या ज्यादा होती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement