जानिए कितने प्रकार के होते हैं सिरदर्द और संकेत

img

लगातार कंप्यूटर पर काम करने और अपने स्वास्थ्य का ध्यान ना देने से हर कोई बहुत सी बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। अधिकतर लोगों को सिरदर्द होता है जिससे आप परेशान होते हैं। सिर दर्द भी कई तरह के होते हैं व इसके कारण भी अलग से हो सकते हैं। कुछ लोगों को सिर के एक या एक से ज्यादा भाग में साथ ही गर्दन के पिछले भाग में हल्के से लेकर तेज दर्द की समस्या रहती है तो कुछ लोगों को अलग तरह का भी सिर दर्दहोने कि सम्भावना है।कई बार अच्छे से नींद न ले पाने के कारण, थकान व तनाव की वजह से भी सिरदर्द की समस्या हो सकती है। आइए जानते हैं सिरदर्द के प्रकार-

  • कई कामकाजी लोगों व आम लोगों में तनाव की वजह से सिर दर्द की समस्या सामने आ सकती है। इस तरह के सिरदर्द में दोनों तरफ या पूरा सिरदर्द होता है। यह दरअसल तनाव की वजह से मांसपेशियों के सिकुड़ने से होता है। जब आप किसी बात को लेकर ज्यादा चिंता करते हैं तो अक्सर इस सिरदर्द की समस्या सामने आती है व अपने आप अच्छा भी हो जाती है।
  • इससे भी कुछ लोगों को सिर के एक भाग में व आंखों के आसपास तेज दर्द की अनुभूति होती है। इस दौरान यदि वो कई दैनिक क्रियाकलाप या सामान्य काम भी करें तो यह दर्द बढ़ जाता है। इस दर्द को अधकपारी या माइग्रेन भी कहते हैं। माइग्रेन से पीड़ित लोग ज़्यादातर अंधेरे व शांत माहौल में रहना पसंद करते हैं। यह दर्द जेनेटिक कारणों से होने कि सम्भावना है।
  • कई बार दातों का दर्द भी सिरदर्द का सबब बन जाता है। दातों में पायरिया या जर्म्स लगने से पूरी जॉ लाइन में दर्द बना रहता है व कई बार इसी की वजह से सिरदर्द होता है। इस स्थिति में आपको तत्काल चिकित्सक से सम्पर्क कर उससे सलाह लेनी चाहिए ताकि आपको उचित उपचार मिल सके।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement