MLA की बेटी अब कर सकती है अदालत में विवाह, विधायक ने दिया ये बयान

img

लखनऊ, शनिवार, 13 जुलाई 2019। उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा और उनके पति अब अदालत में पंजीकृत विवाह का विकल्प चुन सकते हैं। वहीं हरदोई से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश ने विवादित बयान देकर मामले को भडका दिया है। उन्होंने अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर बरेली प्रकरण पर पोस्ट में बताया कि आरती का समर्थन करने वाले लोगों पर टिप्पणी करते हुए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया है। 

श्याम प्रकाश ने लिखा कि जो लोग विधायक की बेटी द्वारा दलित से शादी के विषय पर मीडिया, टीवी डिबेट में विधायक की गलती बता रहे हैं, उनकी बेटी या बहन जिस दिन किसी के साथ के भाग कर शादी करेगी, उस दिन उनको बाप के दर्द और समाज में बेइज्जती का एहसास हो जाएगा। इस अंतरजातीय विवाह के बाद से ही एक बड़ा विवाद खड़ा हो गया है। साक्षी एक ब्राह्मण हैं, जबकि उनके पति अजितेश कुमार दलित परिवार से आते हैं। इससे पहले प्रयागराज में राम जानकी मंदिर का पुजारी अपने बयान से पलट गया। इसके बाद से दंपति द्वारा पंजीकृत विवाह पर विचार किया जा रहा है। 

सूत्रों के अनुसार, दंपति इलाहाबाद उच्च न्यायालय में उपस्थित होंगे, जहां उनकी याचिका पर सुनवाई 15 जुलाई को होगी। सूत्रों ने कहा है कि वे न्यायालय से अनुरोध करने के बाद अपनी शादी 16 जुलाई को अदालत में पंजीकृत करवाएंगे। 3 जुलाई से साक्षी और उनके पति घरवालों से छुपकर भाग रहे हैं। दंपति शुक्रवार को एक समाचार चैनल पर आए और बरेली से भाजपा के विधायक व साक्षी के पिता राजेश मिश्रा पर आरोप लगाया कि वह जाति कारणों से विवाह के खिलाफ हैं।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement