चारित्ररत्न विजय महाराज का चातुर्मास प्रवेश 14 जुलाई को

img

भीनमाल। गुजरात के पाटण नगर में त्रिस्तुतिक जैनाचार्य पूण्य सम्राट जयन्तसेन सूरीश्वर के शिष्य रत्न एवं गच्छाधिपति नित्यसेन सूरीश्वर एवं आचार्य जयरत्न सूरीश्वर महाराज के आज्ञानुवर्ती मुनिराज चारित्र रत्न विजय महाराज, मुनिराज निपुण रत्न विजय महाराज आदि ठाणा 6 , एवं साघ्वी तत्वलता श्रीजी आदि ठाणा 4 , साघ्वी कुमुद प्रिया श्रीजी आदि ठाणा 4, साघ्वी रुची दर्शना श्रीजी आदि ठाणा 2 पाटण नगर में अध्ययन हेतु बिराजमान है । जिनका चातुर्मास प्रवेश 14 जुलाई रविवार को होगा । चातुर्मास प्रवेश को लेकर त्रिस्तुतिक जैन संघ पाटण की ओर से संपुर्ण तैयारी की जा रही है ।

चातुर्मास प्रवेश प्रसंग पर पाटण नगर में बिराजमान पंन्यास मोक्षेसरत्नविजय , पंन्यास कल्पज्ञविजय, मुनिराज ऋषभचन्द्रसागर, मुनिराज नयशेखरविजय आदि अनेक मुनि एवं विभिन्न समुदायों के श्रमणीयो की पावन उपस्थिति रहेगी । चातुर्मास प्रवेश की शोभायात्रा 14 जुलाई रविवार को पाटण नगर के प्रमुख स्थल बगवाडा चोक से सुबह 8 बजे प्रारंभ होकर नगर के राजमार्ग से त्रिस्तुतिक जैन उपाश्रय में पहुंचेगी । उसके बाद पंचासरा जैन यात्रिक भवन में धर्मसभा के रूप में परिवर्तित होगी । मुनिराज के चातुर्मास प्रवेश प्रसंगे पाटण नगर के जैन संघ के विभिन्न समुदायों के अग्रणी सहित विशाल संख्या में लोगों की उपस्थिति रहेगी । गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक सहित अनेक राज्यों के लोग उपस्थित रहेंगे ।
 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement