सीएम अमरिंदर ने पंजाब की जेल सुरक्षा के लिए किए अहम फैसले

img

चंडीगढ़, शुक्रवार, 05 जुलाई 2019। जेल में कैदियों द्वारा हो रहे वारदातों को देखते हुए पंजाब सरकार ने एक बहुत बड़ा ऐलान किया है।अभी हाल ही में नाभा जेल में बरगाड़ी बेअदबी मामले के मुख्य दोशी की हत्या और लुधियाना जेल में कैदी और पुलिस कर्मी के बीच हुए खुनी झड़प को देखते हुए पंजाब के प्रधान मंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जेल की सुरक्षा मजबूत के लिए सख्त कदम उठाए हैं। जिसके तहत पंजाब की सभी जेलों में डरोन और सी.सी.टी.वी. कैमरे उपलब्ध किए जाएंगे।

पंजाब के जेलों के हालातों को देखते हुए कैप्टन अमरिंदर ने कई अहम फैसले किए हैं जिसमे जेल की सुरक्षा को सुधारने के लिए सभी जेलों में डरोन और सी.सी.टी.वी. लगवाए जाएंगे। जेल की सुरक्षा का जायज़ा लेने के लिए एक उच्य स्तरीय मीटिंग की प्रधानगी करते हुए कैप्टन ने पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस से जुड़े कर्मचारियों को जेल विभाग में डेपुटेशन पर भेजने का फैसला लिया है, तांकि वे गुप्त जानकारी जमा करने में स्टाफ की ममद कर सकें। एक और अहम कदम उठाते हुए कैप्टन ने सुनवाई के अधीन गैंगस्टरों और गर्म ख्याल के कैदीयों को अलग करने के लिए रणनीती तैयार करने के लिए भी जेल विभाग को कहा है,जो अन्हें सूबे के बाहर अन्य जेल में तबदील करने से ही संभव हो सकता है। इसका मुख्य उद्देश्य जेल से गर्म ख्यालीयों, आतंकवादियों और गैंगस्टरों के अपराध को रोकना है।

सीएम ने डिप्टी कमिशनरों को हिदायत दी है कि वो अपने- अपने जिलों से संबंधित जेलों का दौरा करें और सुरक्षा में पाई जाने वाली जो भी खामीयां है उसे बिनां किसी देरी के दूर करें। जेलों में वार्डन की खाली 700 पदों को भरने के भी निर्देश दिएं हैं। हालांकि सरकार ने पहले ही 400 वार्डनों की भरती की प्रक्रिया शुरु की है। इस सब के लिए वित्त विभाग ने भी मंजूरी दे दी है। उन्होंने हिदायत दी है कि सी.आर.पी.एफ.की टीम जितना जलदी हो सके जेल ड्युटी पर जैनात किए जाए। कैप्टन ने मोहाली में एक नई जेल स्थापित करने के लिए भी मंजूरी दे दी है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement