भारत-अमेरिका रणनीतिक सांझेदारी को मजबूत करने के लिए जयशंकर-पोम्पिओ के बीच हुई चर्चा

img

नई दिल्ली, बुधवार, 26 जून 2019। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ से बुधवार को मुलाकात की और भारत-अमेरिका रणनीतिक साङोदारी को मजबूत करने के तौर-तरीकों पर चर्चा की। विदेश मंत्रलय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने दोनों नेताओं की मुलाकात की तस्वीर साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘करीबी मित्र का स्वागत करते हुए। भारत-अमेरिका के बीच उच्च स्तर के आदान -प्रदान पर जोर देते हुए, विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने चुनाव के बाद भारत आई पहली अमेरिकी हस्ती पोम्पिओ का गर्मजोशी से स्वागत किया।’   

पोम्पिओ मंगलवार को यहां पहुंचे थे। उन्होंने सुबह के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। विदेश मंत्रलय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने मोदी और पोम्पिओ के बीच बैठक की तस्वीरें साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘हम अपनी रणनीतिक साङोदारी को और प्रगाढ़ करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। मंत्री पोम्पिओ ने भारत-अमेरिका संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से चर्चा के लिए उनसे मुलाकात की। प्रधानमंत्री ओसाका में होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे।’

पोम्पिओ की यह यात्र अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच जी 20 शिखर सम्मेलन के इतर होने वाली बैठक से पहले हुई है।   रणनीतिक रुप से अहम भारत-अमेरिका वार्ता से पहले मंगलवार को राजनयिक सूत्रों ने कहा था कि भारत रुस से एस- 400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के लिए अमेरिकी प्रतिबंध से छूट की शर्तों को पूरा करता है। उन्होंने जोर देकर कहा था कि भारत रुस के साथ अपने पुराने रक्षा संबंधों को  ‘खत्म’’ नहीं कर सकता है। विदेश मंत्री एस जयशंकर और पोम्पिओ के बीच बैठक का ब्योरा फिलहाल नहीं मिल पाया है, लेकिन रुस से मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीद ,आतंकवाद, एच1बी वीजा, व्यापार और ईरान से तेल खरीद पर अमेरिकी प्रतिबंधों से उत्पन्न होने वाली स्थिति सहित विभिन्न मुद्दों पर बातचीत हो सकती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement