मुजफ्फरपुर के सरकारी अस्पताल के पीछे इंसानों के कंकाल मिलने से हडकम्प

img

मुजफ्फरपुर, शनिवार, 22 जून 2019। बिहार के मुजफ्फरपुर के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल के पीछे इंसानों के कंकाल मिलने से हडकम्प मच गया है। कुछ समय पहले मुजफ्फरपुर का श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल बदइंतजामी की वजह से चर्चा में बना हुआ है। यहां एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) या चमकी बुखार से अब तक 128 बच्चों की मौत हो गई हैं।  मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अस्पताल के पीछे नर कंकालों के कई टुकड़े पाए गए हैं। अस्पताल प्रशासन ने इस मामले को लेकर जांच कराने के लिए कहा है। अस्पताल की एक टीम ने कंकाल मिलने की जगह का निरीक्षण भी कर लिया है। श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट एसके शाही ने बताया कि पोस्टमार्डम डिपार्टमेंट प्रिंसिपल के अंतर्गत आता है। मैं प्रिंसिपल से बात करुंगा और जांच के लिए कमेटी बनाने के लिए कहूंगा जिससे इसकी निष्पक्षता से जांच हो सकें। मरीजों के लिए बिस्तर व डॉक्टरों के अभाव और बच्चों को इलाज के लिए चर्चा में बना हुआ है। 

एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम से बच्चों की मौत का आंकड़ा बढ़ने के बाद से यह देशभर में अस्पताल का चर्चा में नाम आ गया है। नरकंकाल के टुकड़ों की फोटोज सामने आने के बाद काफी लोगों ने सोशल मीडिया पर सवाल उठाना प्रारंभ कर दिए हैं कि मौतों को छुपाने के लिए तो नरकंकालों को फेंक नहीं दिया गया? कंकालों की खबर मिलने के बाद एसकेएमसीएच की टीम मौके पर पहुंची है और टीम ने अस्पताल के आसपास के क्षेत्रों का निरीक्षण किया।

एसकेएमसीएच के डॉ. विपिन कुमार ने कहा कि यहां पर कंकालों के अवशेष मिले हैं और इसके बारे में अधिक जानकारी प्रिंसपल की ओर से से ही दी जाएगी। इसी जगह पर कई कंकालों के अवशेष बरामद हुए हैं और एक थैले में भी कुछ अवशेष रखे हुए पाए गए हैं।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement