प्रदेश के सभी गांव एवं ढ़ाणियां होंगी बिजली से रोशन- खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री

img

जयपुर। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेशचन्द मीना ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के सभी गांव एवं ढाणियों में बिजली पहुंचाने के लिए संकल्पबद्ध है। जिले के सभी गांव एवं ढाणियों में बिजली पहुंचाकर गांव को रोशन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जनहितेषी सरकार आमजन की प्रत्येक समस्या का समाधान करने के लिए प्रयासरत है।  मीना को करौली के  दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत नवनिर्मित 33/ 11 केवी ग्रिड सब स्टेशन ग्राम पंचायत भांकरी एवं रणगवां ताल पर आयोजित  लोकार्पण समारोह में उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित कर रहे थे।  उन्होंने कहा कि भांकरी के सब ग्रिड स्टेशन से गुरदह, भांकरी, बीरवलकापुरा, लांगरा, गढीका गांव आदि ग्राम एवं ढाणियों को करौली शहरी के तरह उपभोक्ताओं को निर्बाध रूप से बिजली मिलने लगेगी जिससे बिजली की छीजत एवं विद्युत सप्लाई में गुणवत्ता के साथ-साथ वोल्टेज में भी सुधार होगा। उन्होंने कहा कि सभी घरों में बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे।

उन्होंने सभी से विद्युत कनेक्शन लेने की भी अपेक्षा की। खाद्य मंत्री ने कहा कि उपभोक्ताओं को परेशानी ना हो इसके लिए जीएसएस पर नियुक्त कार्मिकों द्वारा विद्युत आपूर्ति  में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जाएगा।   जीएसएस पर किसी भी प्रकार की गड़बड़ी पाई जाती है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  मीना ने कहा कि राजस्थान में विद्युत तंत्र को मजबूत बनाने के लिए जीएसएस का निर्माण किया जा रहा है। विद्युत चोरी और छीजत कम  हो इस पर निगरानी रखी जा रही है तथा राज्य में 16 प्रतिशत बिजली चोरी हो रही है जिससे 45 हजार करोड रूपये का सरकार को घाटा हो रहा है। उन्होंने कहा कि सभी ग्रामवासी विद्युत कनेक्शन लें एवं समय पर बिल का भुगतान करें तो निश्चित ही विद्युत चोरी रूकेगी और निर्बाध रूप से गुणवत्तापूर्ण बिजली सभी को मिलेगी। उन्होंने बताया कि किसानों के कर्ज राज्य सरकार ने माफ किए हैं और जिन किसानों ने समय पर ़ऋण का भुगतान किया है उन्हें विशेष सुविधा दी जाएगी। 

पेयजल की समस्या का किया जाएगा समाधान-
खाद्य मंत्री ने कहा कि  गुरदह एवं भांकरी में पानी की समस्या के लिए प्रस्ताव तैयार करने के साथ-साथ पाईप लाईन से पेयजल उपलब्ध कराने के लिए तैयारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, पशुपालन आदि क्षेत्रों में भी विकास में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने गुरदेह, बथुआ सडक मार्ग को वन विभाग से वार्ता कर बनाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने उपखण्ड अधिकारी को भांकरी एवं गुरदह में पानी के टेंकरों की व्यवस्था कर पेयजल उपलब्ध कराने के निर्देश मौके पर दिए।  खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ने भांकरी जीएसएस के उदघाटन अवसर पर आयोजित समारोह में लोगों की मांग पर बहरानी तालाब के जीर्णोंद्धार के लिए 5 लाख रूपये विधायक कोष से देने की घोषणा की जिस पर ग्रामवासियों ने खाद्य मंत्री का आभार व्यक्त किया।

समारोह में जेवीवीएनएल के अधीक्षण अभियंता आरसी शर्मा ने बताया कि इस सब ग्रिड स्टेशन के बनने से ग्रामवासियों को बिजली मिलेगी इसकी शुरूआत 2010 में की गई थी। खाद्य मंत्री के लगातार प्रयासों से इस कार्य को मूर्तरूप दिया गया अब इससे डांग क्षेत्र में विद्युत सुविधाओं का विस्तार होगा।  अधीक्षण अभियंता ने बताया कि ग्रामवासियों को निर्बाध रूप से बिजली देने के लिए समयबद्ध रूप से शिविर आयोजित कर विद्य़ुत कनेक्शन दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सभी ग्रामवासी विद्युत कनेक्शन लेकर सरकार का सहयोग करें।  समारोह में विशिष्ठ अतिथि जिला प्रमुख सर्व अभय कुमार मीना, भांकरी सरपंच नन्दकिशोर, लांगरा सरपंच रामजीलाल, हरनगर सरपंच अशोक सहित जलधारी, चन्द्रप्रकाश मीना, उधोसिंह, भूपेन्द्र भारद्वाज, मण्डरायल प्रधान मौसमबाई सहित पुलिस, जलदाय, सानिवि, उपखण्ड अधिकारी मण्डरायल रामचन्द्र मीना सहित भांकरी, बीरवलकापुरा एवं गुरदह के ग्रामवासी उपस्थित थे।  खाद्य मंत्री ने भांकरी 33 केवी सब ग्रिड स्टेशन के शुभारंभ के पश्चात रणगवां ताल के पास 208.45 लाख की लागत से नवनिर्मित 33 केवी सब ग्रिड स्टेशन का भी विधिवत रूप  से शिला पट्टिका विमोचन कर शुभारंभ किया। 

 स अवसर पर उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि इंटरगेटेड पॉवर डवलपमेंट स्कीम के तहत इस सब स्टेशन का निर्माण किया गया है इसके द्वारा शिकारगंज, जेल, होस्पीटल, आईटीआई सहित करौली शहर के उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण बिजली मिलेगी। उन्होंने कहा कि करौली शहर को जिस गुणवत्ता के साथ बिजली मिल रही है उसी प्रकार करौली जिले की गांव एवं ढाणियों को बिजली मिलेगी ?से प्रयास सरकार द्वारा किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि समय पर बिजली मिले, 72 घण्टे में जले हुए ट्रांसफार्मर बदले जाए, समय पर विद्युत कनेक्शन मिले यह भी सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विद्युत की व्यवस्था सुदृढ होगी तो पेयजल की समस्या भी मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि करौली क्षेत्र के लिए एक जीएसएस निर्माण के प्रस्ताव तैयार करवाए जा रहा है।

उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि नया होस्पीटल, जेल, पुलिस लाईन, शिकारगंज के साथ-साथ बिचपुरी एवं ससेडी से अलग से फीडर निकाल कर इस क्षेत्र के ग्रामीणों को भी विद्युत आपूर्ति कराया जाना सुनिश्चित करें।  प्रारंभ में जेवीवीएनएल के अधीक्षण अभियंता आरसी शर्मा ने बताया कि इस फीडर के माध्यम से करौली क्षेत्र में बग्गीखाने के पास स्थित पॉवर हाउस का लोड कम होने से करौली शहर की विद्युत गुणवत्ता में भी सुधार होगा। भविष्य में बिचपुरी एवं ससेडी में नए फीडर के माध्यम से विद्युत आपूर्ति करने की तैयारी भी की जा रही है।  इस अवसर पर जिला प्रमुख अभय कुमार मीना, उपखण्ड अधिकारी मुनिदेव यादव, सीएमएचओ, जलदाय, सानिवि सहित जनप्रतिनिधि, ग्रामवासी एवं मीडियाकर्मी उपस्थित थे। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement