प्रियंका गांधी ने लगाया आरोप, कहा- घूसखोरी की भेंट चढ़ी यूपीपीएससी परीक्षाएं

img

लखनऊ, शनिवार, 01 जून 2019। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग यूपीपीएससी परीक्षाओं को घूसखोरी की भेंट चढ़ा दिये जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य की भाजपा सरकार कमीशनखोरों का हित देखने में मस्त है। प्रियंका ने एक ट्वीट में कहा हैं कि यूपीपीएससी का पेपर छापने का ठेका एक डिफॉल्टर को दिया गया। आयोग के कुछ अधिकारियों ने डिफॉल्टर के साथ साठ-गांठ करके पूरी परीक्षा को कमीशन- घूसखोरी की भेंट चढ़ा दिया।

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की नाक के नीचे युवाओं को ठगा जा रहा है, लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार डिफॉल्टरों और कमीशनखोरी का हित देखने में मस्त है। प्रियंका ने ट्वीट के साथ कुछ खबरों की कटिंग भी टैग की है, जिनमें यूपीपीएससी की एलटी ग्रेड शिक्षकों के 10768 पदों के लिये पिछले साल 29 जुलाई को हुई परीक्षा का पर्चा एक दिन पहले ही लीक होने के मामले में प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजूलता कटियार के यहां गुरुवार को मारे गये छापे और गिरफ्तारी का जिक्र है। एसटीएफ की जांच में अंजूलता की नकल माफिया के साथ साठगांठ का खुलासा हुआ है।

इस परीक्षा का प्रश्नपत्र कोलकाता के प्रिंटिंग प्रेस के मालिक कौशिक कुमारकर के प्रेस में होनी थी, जिसे पर्चा लीक करने के आरोप में पहले ही डिफॉल्टर घोषित किया जा चुका था। कौशिक के यहां से यूपीपीएससी की होने वाली मुख्य परीक्षा का प्रश्नपत्र भी बरामद हुआ था। इस खुलासे के बाद आयोग ने पीसीएस, एसीएफ और आरएफओ मुख्य परीक्षाओं समेत कुल 10 परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। इस बीच, प्रदेश भाजपा प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने कहा कि जहां तक प्रियंका के ट्वीट का सवाल है तो यूपीपीएससी अध्यक्ष की नियुक्ति कांग्रेस की ही सहयोगी रही समाजवादी पार्टी की सरकार में हुई थी। सरकार ने परीक्षा में कमीशनखोरी के आरोपों को गम्भीरता से लिया है। इसमें जिनकी भी संलिप्तता पायी जाएगी, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement