चंद्रबाबू नायडू छब्बेजी बनने निकले थे, दुबेजी बनकर लौटे- शिवराज सिंह

img

भोपाल, शुक्रवार, 24 मई 2019। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को देश में मिले भारी बहुमत को लेकर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि नायडू इस कहावत को पूरी तरह चरितार्थ करते है कि चौबेजी छब्बेजी बनने निकले थे, लेकिन दुबेजी' बनकर लौटे। चौहान ने चंद्रबाबू नायडू पर तंज कसते हुए ट्वीट किया कि चौबेजी छब्बेजी बनने निकले थे, लेकिन दुबेजी बनकर लौटे।' आपने (नायडू) मोदीजी को हटाने के लिए दिन-रात उठापटक की लेकिन देश की जनता के दिलों में मोदीजी बसते हैं और वहां से उन्हें कोई नहीं हटा सकता।

चौहान ने एक ट्वीट में सलाह देते हुए लिखा कि कांग्रेस के बुद्धिजीवी नेता वंशवाद की राजनीति से बाहर निकलें वर्ना इतना बड़ा इतिहास रखने वाली पार्टी का अस्तित्व ही समाप्त हो जाएगा। कांग्रेस वंशवाद की राजनीति के कारण अब लगातार दूसरी बार नेता प्रतिपक्ष बनाने की हैसियत में नहीं है।अन्य एक ट्वीट में चौहान ने सलाह देते हुए लिखा,कि जनता ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के जातिवाद और वंशवाद के एजेंडे को बुरी तरह नकारा है। मेरी तो यही सलाह है कि लोगों को बांटने की राजनीति अब छोड़ दीजिए। इसकी जगह जनकल्याण और विकास की राजनीति कीजिए, फायदे में रहेंगे।

चौहान ने ट्वीट के जरिए ममता बनर्जी को चेतावनी देते हुए कहा कि ममता दीदी, लोकतंत्र में गुंडातंत्र का उपयोग और हिंसा छोड़ें। जिस तरह हार को निकट देखकर आपने बौखलाते हुए हिंसा की राजनीति की, उसे पश्चिम बंगाल कि जागरूक जनता ने नकार दिया। दीदी, संभल जाओ वर्ना..।" ज्ञात हो कि, भाजपा और एनडीए को देश में 352 सीटों पर जीत मिली है। वहीं, मध्य प्रदेश में भाजपा के खाते मे 29 में से 28 सीटें आई है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement