क्या आपको भी है विदेशों में भारतीय संस्कृति की झलक देखने की चाह?

img

भारत के निकट स्थित देशों में से एक, इंडोनेशिया बेहद खूबसूरत देश है। लेकिन यहां स्थित बाली द्वीप में भारतीय हिंदू संस्कृति की मंध खुशबू पर्यटको का मन मोह लेती हैं। हम आपको बता दें कि बाली द्वीप की एतिहासिक संस्कृति को देखने दुनिया भर से पर्यटक यहाँ खींचे चले आते हैं। अपने आप में कई सांस्कृतिक धरोहरों को समेटे हुए बाली द्वीप हिंदू सभ्यता का एक जीवंत उदहारण प्रस्तुत करता है। आइए जाने यहाँ की संस्कृति के बारे में –

यहां का नेशनल एंबलम “गरुड़”

यदि आप विदेश में भारतीय संस्‍कृति की झलक देखने के इच्छुक हैं तो इंडोनेशिया घूमने चले जाइए। यहाँ के एयरलाइंस का चिन्ह ‘गरुड़ पक्षी’ है। जिसे देखते ही रमायण के पात्र गरुड़ पक्षी जिसने सीता माता के लिए रावण से युद्ध किया था, की झलक सामने आ जाती है।

बहुत फेमस है रामलीला:

रामायण का प्रभाव इंडोनेशिया में बहुत गहरा है। यही कारण है कि यहाँ की अधिकतर संस्कृति रामायण की आस्थाओं से जुडी हुई हैं। यहाँ की रामलीला भी बहुत प्रसिद्ध है और यहाँ के पत्थरों पर रमायण के पात्रों से जुड़ी अद्भुत नक्काशियाँ देखने को मिलती हैं। यहाँ पर कविभाषा में लिखित रामायण प्रचलित है।

जगह जगह है मंदिर

जकार्ता के उत्तर-पश्चिम तट पर इंडोनेशिया जाने वाले यात्रियों के लिए मध्य में महाभारत के पात्र अर्जुन और भगवान कृष्ण की अद्भुत प्रतिमा को दर्शाया गया है। इसके अलावा जगह जगह पांच बड़े मंदिर भी बने हुए हैं। जहाँ आप श्री राम व अन्य देवताओं की मूर्तियों को देख सकते हैं।

बहुत अधिक है रामायण और महाभारत का प्रभाव :

पूरे इंडोनेशिया देश में रामायण और महाभारत का अत्यधिक प्रभाव है। बाली में जाकर पर्यटक कुरुक्षेत्र में हुए महाभारत के चित्रण देख सकते हैं। यहाँ के लोग गंगा स्नान एवं शिव मंदिर के दर्शन को प्राथमिकता देते हैं।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement