भाजपा मेरी उपलब्धियों को अपना बता रही- हुड्डा

img

सोनीपत, शुक्रवार, 10 मई 2019। हरियाणा के दो बार मुख्यमंत्री रहे भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के मोदी सरकार के फैसले के बारे में कहा कि भाजपा ‘‘मेरी उपलब्धियों को अपना बता रही है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा उनके काम का श्रेय भले ही ले सकती है लेकिन उसे इससे वोट नहीं मिलेंगे। सोनीपत लोकसभा सीट से लड़ रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने भाजपा पर ‘‘बदले की राजनीति’’ करने का आरोप लगाया और कहा कि जनवरी में उनके रोहतक आवास पर सीबीआई के छापे का लक्ष्य 12 मई के चुनाव से पहले उनकी छवि खराब करना था। हुड्डा ने कहा, ‘‘मैं इसे (सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए आरक्षण) पहले हरियाणा में लेकर आया था। मैंने सुनिश्चित किया कि जाति और अर्थव्यवस्था पर ध्यान दिए बिना आरक्षण सभी को मिले। उस समय उन्होंने (भाजपा ने) इसका विरोध किया था। अब उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर इसे फिर से पेश किया और वे इससे लाभ लेने की कोशिश कर रहे हैं। मेरी उपलब्धियों को वे अपना बता रहे हैं ।’’

हुड्डा के नेतृत्व वाली हरियाणा सरकार ने हरियाणा पिछड़ा वर्ग आयोग की सिफारिश पर सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर तबके के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण को 2013 में मंजूरी दी थी। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘उन्हें (भाजपा) लगता है कि वे मेरे काम का श्रेय ले सकते हैं। वे निश्चित ही ऐसा कर सकते हैं, लेकिन वे इस आधार पर वोट हासिल नहीं कर सकते। लोग इतने समझदार हैं कि वे सब समझते हैं। वे एक बार गलती कर सकते हैं लेकिन वे बार-बार ऐसा नहीं करेंगे।’’ हुड्डा ने इस साल चुनाव में खड़े होने के लिए शुरुआत में इच्छुक नहीं होने के बारे में कहा, ‘‘मैं शंका में था लेकिन यदि पार्टी चाहती है कि मैं चुनाव लड़ूं, तो मैं न नहीं कहूंगा। मेरी पत्नी सोनीपत की हैं। मेरे पिता जब लोकसभा में थे, तब मेरे पिता का भी यही निर्वाचन क्षेत्र था। मेरी निश्चित ही यहां मजबूत पकड़ है और मैं जीतूंगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने चुनाव से पहले मेरे घर पर छापे मारकर सीबीआई का इस्तेमाल करके मेरी छवि खराब करने की कोशिश की। कुछ भी गलत नहीं मिला। यह सब बदले की राजनीति है। उन्हें लगता है कि इससे चुनाव प्रभावित हो सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं होगा।’’ कांग्रेस नेता ने कहा कि हरियाणा मनोहर लाल खट्टर नीत भाजपा सरकार में तीन बार ‘‘जला’’ और लोग यह भूलेंगे नहीं।

उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने रामपाल (की गिरफ्तारी) के समय ऐसा किया, उन्होंने आरक्षण आंदोलन और सिरसा में डेरा सच्चा सौदा में हुई हिंसा के दौरान ऐसा किया। उन्होंने हरियाणा को जलाया। क्या उन्हें लगता है कि लोग उसे भूल जाएंगे? उन्होंने बड़े-बड़े वादे तो किए लेकिन वे उन्हें पूरा नहीं कर पाए।’’ हुड्डा के सामने भाजपा के मौजूदा सांसद रमेश चंद्र कौशिक और जननायक जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी गठबंधन उम्मीदवार दिग्विजय चौटाला की चुनौती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement