SC ने राहुल गांधी को नोटिस जारी किया, सीजेआई ने पूछा चौकीदार कौन है

img

नई दिल्ली, मंगलवार, 23 अप्रैल 2019। सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ आपराधिक अवमानना का नोटिस जारी किया। अदालत ने मामले को बंद करने की याचिका को खारिज कर दिया। अदालत 30 अप्रैल को राफेल समीक्षा के साथ इसकी भी सुनवाई करेगी। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना केस पर सुनवाई के दौरान भारतीय जनता पार्टी की सांसद मीनाक्षी लेखी की तरफ से पेश वकील मुकुल रोहतगी ने कोर्ट को बताया राहुल गांधी ने अपने बयान में सिर्फ खेद ही जताया है। माफी नहीं मांगी है। सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के बाद राहुल गांधी को नोटिस जारी कर दिया।

आपको बताते जाए कि राफेल डील में भ्रष्टाचार के आरोप वाली पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट में स्वीकार करने के बाद राहुल गांधी ने कहा था कि कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकीदार चोर है। कोर्ट के हवाले से राहुल गांधी के बयान पर आपत्ति जताने के बाद उन्हें अवमानना का नोटिस भेज दिया गया है। जिस पर जवाब दाखिल करते हुए राहुल गांधी ने अपने बयान पर अफसोस जताया है।

इस जवाब से भाजपा संतुष्ट नहीं हैँ। भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि राहुल ने माफी नहीं मांगी है, अफसोस जताया है। इस पर मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि अभी तक उन्होंने राहुल गांधी का जवाब नहीं पढ़ा है। इस दौरान सीजेआई ने मुकुल रोहतगी से ये भी पूछा कि चौकीदार कौन है? इस पर मुकुल रोहतगी ने बताया कि राहुल गांधी ने पूरे देश को बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी 'चौकीदार' चोर हैं। जबकि सुप्रीम कोर्ट ने कुछ नहीं कहा है। कोर्ट ने अवमानना केस की सुनवाई के लिए 30 अप्रेल का दिन तय किया।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement