जम्मू-कश्मीर की विलय संधि को खत्म करने की डेड लाइन देते हैं- महबूबा बोलीं

img

श्रीनगर, बुधवार, 03 अप्रैल 2019। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बड़ा विवादित बयान देते हुए कहा है कि हम जम्मू-कश्मीर की विलय संधि खत्म करने की डेडलाइन देते हैं।  यह बात मुफ्ती ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग से अपना नामांकन दाखिल करने के बाद कही । उन्होंने आगे कहा कि अगर अमित शाह 35A, 370 पर डेडलाइन दे रहे हैं, तो उनकी पार्टी भी एक डेडलाइन देती है। हम जम्मू-कश्मीर की विलय संधि खत्म करने की डेडलाइन देते हैं। महबूबा मुफ्ती इससे पहले भी कह चुकी हैं कि अमित शाह धारा 370 और 35ए को हटाने वाले सपने दिन में ही देख रहे हैं।  महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू कश्मीर के साथ जो भी शर्त है उससे अगर छेड़छाड़ की गई तो 2020 तक जम्मू-कश्मीर और भारत के बीच रिश्ता खत्म हो जाएगा।

मुफ्ती ने भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के उस बयान पर पलटवार किया जिसमें उन्होंने कहा था कि साल 2020 तक जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा लिया जाएगा। इस दौरान महबूबा ने कांग्रेस नेता करण सिंह को घेरते हुए कहा कि आपके पिता महाराजा हरी सिंह ने राज्य में आर्टिकल 370 लागू किया था लेकिन आप अब अलग भाषा बोल रहे हैं। महबूबा ने कहा कि मुझे लगता है कि यह बहुत गलत है और करण सिंह के व्यक्तित्व के मुताबिक नहीं है। कांग्रेस के घोषणापत्र को लेकर उन्होंने कहा कि उनका वादा वैसा ही जैसा बीजेपी के साथ गठबंधन के एजेंडे में मुफ्ती मोहम्मद सईद ने पेश किया था।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement