चेचक में खासतौर पर फायदेमंद हैं नीम

img

चिकन पॉक्स यानी छोटी माता यह ज्यादातर बच्चों में होती हैं। जिसमें पूरे शरीर पर निशान होने लग जाते हैं। इस बीमारी से बचने के लिए आपको कुछ दें इलाज करते रहते हैं। ऐसे ही आपको हम इलाज बताने जा रहे हैं जिन्हें आप अपना सकते हैं। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ घरेलू उपचार.... 

  • चिकन पॉक्स होने पर शरीर में बहुत तेज खुजली होती है. खुजली से बचने के लिए जई के आटे को पानी में मिलाकर स्नान करना चाहिए. 2 लीटर पानी में 2 कप जई का आटा मिलाकर लगभग 15 मिनट तक उबालें, पके आटे को एक कॉटन के बैग में अच्छी तरह से बांधकर बॉथ टब में डालकर नहाएं। 
  • एंटीबायोटिक्स का उपयोग करें. घाव को साफ करने के बाद, एंटीबायोटिक्स क्रीम या मलहम की एक पतली परत लगाए. ये एंटीबायोटिक्स दवाइयां घाव को तेज़ी से ठीक तो नहीं करती, लेकिन वे जीवाणु वृद्धि और संक्रमण को आगे बढ़ने से रोक सकती हैं। 
  • ख़ूब पानी पीजिये. चेचक में निर्जलीकरण महत्त्वपूर्ण लक्षणों में से एक है! सुनिश्चित करें कि पानी उबला हुआ और कमरे के तापमान पर ठंडा किया हो. किसी के साथ अपना ग्लास या पानी की बोतल साझा न करें। 
  • नीम की पत्तियों को गर्म पानी में डालकर नहाने से खुजली समाप्त होती है. नीम प्राकृतिक रूप से एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है. ऐसे में चिकन पॉक्स ठीक करने में बेहद फायदेमंद है। 
  • नीम की पत्तियों को गर्म पानी में डालकर नहाने से खुजली समाप्त होती है. नीम प्राकृतिक रूप से एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है. ऐसे में चिकन पॉक्स ठीक करने में बेहद फायदेमंद है। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement