इस मंदिर में प्याज चढाने पर होते हैं देवता प्रसन्न

img

देश में बढती महंगाई से जहां जनता परेशान है तो वहीं सरकार भी चिंतित है। खास तौर पर सरकार प्याज के बढे दामों के कारण अधिक चिंतित है क्योंकि प्याज के बढे दामों ने सरकार की चारों ओर किरकिरी कराई है तो वहीं आम आदमी की रसोई का प्याज ने जायका बिगाड रखा है। प्याज गरीब आदमी की पहुंच से दूर होता जा रहा है। इसलिए प्याज इस समय काफी चर्चा में है। लेकिन प्याज को लेकर एक और नई बात सामने आई है कि राजस्थान में एक ऎसा मंदिर है जहां सिर्फ प्याज का भोग लगाया जाता है। 

सूत्रों के अनुसार राजस्थान में गोगामे़डी स्थित गोगाजी और गुरू गोरखनाथ मंदिर में लोग बाकायदा प्याज चढ़ा रहे हैं। यहां प्याज का ढेर लग गया है। यह संभवत इकलौता मंदिर है जिसमें देवता को प्याज और दाल चढ़ाई जाती है। लोगों के अनुसार किवदंती है कि यहां पर प्याज व दाल चढाने से देवता प्रसन्न होते हैं। 

सूत्र बताते हैं कि करीब एक हजार साल पहले यहां गोगाजी व मजमूद गजनवी के बीच युद्ध हुआ था। इस युद्ध में सहायता के लिए गोगाजी ने विभिन्न स्थानों से सुनाएं बुलाई थीं जो अपने साथ भोजन के लिए प्याज और दाल लाए थे। इस युद्ध गोगाजी वीरगति को प्राप्त हुए। वापसी में जब सहायक सेनाएं अपने गंतव्य स्थान को वापस लौट रहीं थी तो लौटने से पहले बची हुई प्याज व दाल गोगाजी की समाधि पर अर्पित कर दी। तब से यह परंपरा है कि जो भी भक्त गोगाजी के दर्शन करने आता है वह प्याज व दाल चढाता है। 

इस मंदिर में भादों के महीने में प्रथम पखवाडे में 15 दिन मेला भरता है और इस मेले में लगभग 40-50 लाख लोग दर्शन के लिए पहुंचते हैं जिससे यहां पर सैकडों क्विंटल प्याज इकटा हो जाती है जिसे बेचकर जो राशि प्राप्त होती है उस राशि से मंदिर का भण्डारा किया जाता है और गौशाला चलाने के काम में यह राशि काम में ली जाती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement