PM बताएं कि पुलवामा हमले के शुरुआती जानकारी उन्हें थी या नहीं- कांग्रेस

img

नई दिल्ली, शुक्रवार, 22 फरवरी 2019। कांग्रेस ने पुलवामा आतंकी हमले के कुछ घंटों बाद ही उत्तराखंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मोबाइल फोन के जरिए जनसभा को संबोधित करने का दावा करते हुए शुक्रवार को कहा कि मोदी बताएं कि हमले के शुरुआती दो घंटों के दौरान उन्हें इस जघन्य हमले की जानकारी थी या नहीं। पार्टी ने यह भी कहा कि अगर प्रधानमंत्री को इसकी जानकारी थी तो फोटोशूट कर और जनसभा कर उन्होंने संवेदनहीनता क्यों दिखाई और अगर दो घंटों तक इतने बड़े हमले के बारे में जानकारी नहीं थी कि तो यह सुरक्षा से जुड़ा गंभीर प्रश्न है।

Congress Live@INCIndiaLive

LIVE: Press briefing by @ManishTewari, former Union Minister and AICC Spokesperson. https://www.pscp.tv/w/bz-FqDFsWktwZ2VwbEJvUW58MXpxS1ZPRVprcURHQkoHDH3kmB4F9RKRQbyoYrQxPCrZcMCOCdqVCZ9fkpv9 …

923

11:22 AM - Feb 22, 2019

Twitter Ads info and privacy

INC Live @INCIndiaLive

LIVE: Press briefing by @ManishTewari, former Union Minister and AICC Spokesperson.

pscp.tv

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘14 फरवरी को दिन में तीन बजकर 10 मिनट पर हमला हुआ और दो घंटे बाद प्रधानमंत्री ने मोबाइल फोन के जरिए रैली संबोधित की। वह इस जनसभा में पुलवामा हमले के बारे में एक शब्द नहीं बोले। अगर वह पुलवामा हमले के बारे में बोलते, इसकी निंदा करते, जवानों को श्रद्धांजलि देते तो वह कम से कम दो मिनट का मौन रखने के लिए कहते। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।’’ उन्होंने दूरदर्शन पर प्रसारित प्रधानमंत्री के भाषण की एक फुटेज भी दिखाई और दावा किया कि प्रधानमंत्री शाम में पांच बजकर 10 मिनट पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

तिवारी ने सवाल किया, ‘‘हम प्रधानमंत्री से पूछना चाहते हैं कि आप उस दिन तीन बजकर 10 मिनट से पांच बजकर 10 मिनट के बीच क्या कर रहे थे? क्या इस दौरान आपको इस हमले की जानकारी थी?’’ कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘इसमें दो बातें हो सकती हैं। पहली बात यह हो सकती है कि प्रधानमंत्री को इस हमले के बारे में पता था और उन्होंने फोटोशूट करना जारी रखा और रैली को संबोधित किया। अगर ऐसा है तो इससे बड़ी संवदेनहीनता कुछ नहीं हो सकती।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ दूसरी बात यह हो सकती है कि तीन बजकर 10 मिनट से पांच बजकर 10 मिनट बीच तक प्रधानमंत्री को पता नहीं था। अगर ऐसा है तो यह सुरक्षा से जुड़ा गंभीर प्रश्न है। इससे सरकार की अक्षमता साबित होती है।’’

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement