क्या आप जानते हैं महाभारत से जुड़े इन टूरिस्ट प्लेसेस के बारे में

img

महाभारत हिन्दुओं का एक सबसे लंबा साहित्यक ग्रंथ है। वेद व्यास द्वारा रचित इस ग्रंथ के लेखक स्वयं भगवान गणेश को माना जाता है। कुछ लोग इसमें बतायी गई घटनाओं को मात्र एक कथा मानते हैं। आज हम आपको ऐसे ही कुछ स्थानों की सैर पर लेकर चलते हैं जहां पहुंचकर आपके दिमाग से ओझल होती महाभारत की हर घटना एक बार फिर ताजी होती महसूस होगी। हम आपको बता दें की महाभारत में जिन स्थानों का उल्लेख किया गया है उनमें से कुछ तो भारत में हैं लेकिन कुछ विदेशों में स्थित हैं।

mahabharat

कैकेय प्रदेश

महाभारत ग्रंथ में कैकेय प्रदेश का वर्णन किया गया है। यहां के राजा जरासंध थे और उन्होंने महाभारत के युद्ध में कौरवों का साथ दिया था। आज के समय में यह स्थान काफी प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है। जो जम्मू-कश्मीर के उत्तरी क्षेत्र का एक भाग है।

गांधार

गांधार के राजा सूबल थे जिनकी पुत्री का नाम गांधारी था। गांधारी कौरवों की माता थीं। आज के समय में गांधार का नाम बदलकर कंधार रख दिया गया है जो आज के समय में पाकिस्तान के रावलपिन्डी से अफगानिस्थान तक फैला है।

तक्षशिला

तक्षशिला को ज्ञान और शिक्षा की नगरी मान जाता है जो महाभारत काल में गांधार प्रदेश की राजधानी थी। वर्तमान में यह स्थान लोगों के बीच रावलपिन्डी के नाम से प्रसिद्ध है और पाकिस्तान में स्थित है।

वृंदावन

भगवान कृष्ण की नगरी वृंदावन का भी महाभारत ग्रंथ में जिक्र किया गया है। यह स्थान आज के समय में एक पवित्र धार्मिक स्थल के रूप में काफी फेमस है।

इंद्रप्रस्थ

इंद्रपस्थ नामक स्थान का भी महाभारत में जिक्र मिलता है जो महाभारत काल में पांडवों की राजधानी हुआ करता था। उसी इंद्रपस्थ को आज के दिन में दिल्ली के नाम से जाना जाता है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement