मैं चाहता हूं कि कानूनी तरीके से लोग अमेरिका आएं- ट्रंप

img

वाशिंगटन। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने वार्षिक स्टेट ऑफ यूनियन संबोधन में योग्यता आधारित आव्रजन की एक बार फिर जोरदार वकालत करते हुए कहा कि वैध आव्रजक अनगिनत तरीके से अमेरिका को समृद्ध बनाते हैं। उनका यह बयान उन हजारों भारतीय आईटी पेशेवरों के लिए उम्मीद दिलाने वाला है जो अमेरिका की मौजूदा प्रणाली से त्रस्त हैं। भारतीय-अमेरिकी मौजूदा आव्रजन प्रणाली से सबसे ज्यादा त्रस्त हैं जिनमें से अधिकतर अत्यधिक कुशल हैं और मुख्य रूप से एच-1बी कार्य वीजा पर अमेरिका आये हैं। यह प्रणाली ग्रीन कार्ड या स्थाई कानूनन प्रवास के लिए सात प्रतिशत प्रति देश का आरक्षण लागू करती है।

राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने दूसरे स्टेट ऑफ यूनियन संबोधन में कहा, ‘एक ऐसी आव्रजन प्रणाली बनाने की हमारी नैतिक जिम्मेदारी है जो हमारे नागरिकों की जिंदगी और नौकरियों को बचाती हो।’ विशेषज्ञों के अनुसार दशकों पुरानी विविधता आधारित लॉटरी वीजा प्रणाली के माध्यम से उन लोगों को ग्रीन कार्ड दिये गये जो उन देशों से आते हैं जहां से लोग सामान्य रूप से योग्यता आधारित प्रणाली के माध्यम से अमेरिका आने की पात्रता पूरी नहीं कर पाते। आधिकारिक रिपोर्टों के अनुसार भारतीय कुशल प्रवासियों के लिए ग्रीन कार्ड हासिल करने की मौजूदा प्रतीक्षा अवधि 70 साल हो सकती है। ग्रीन कार्ड होने से कोई व्यक्ति स्थाई रूप से अमेरिका में रह सकता है और काम कर सकता है।

उन्होंने कहा कि दक्षिणी मैक्सिको सीमा पर अराजकता की स्थिति सभी अमेरिकियों की सुरक्षा और वित्तीय स्थिति के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि इस नैतिक जिम्मेदारी में आज यहां रह रहे लाखों आव्रजकों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता शामिल है जो नियमों का पालन करते हैं और हमारे कानूनों का सम्मान करते हैं। वैध आव्रजक हमारे देश को समृद्ध बनाते हैं और अनगिनत तरीके से हमारे समाज को मजबूत करते हैं। ट्रंप ने अपनी सख्त आव्रजन नीतियों को कायम रखते हुए कहा, ‘मैं चाहता हूं कि लोग हमारे देश में आएं लेकिन उन्हें कानूनन तरीके से आना होगा।’

उन्होंने कहा कि उनके प्रशासन ने कांग्रेस को दक्षिणी सीमा पर संकट समाप्त करने के लिए एक प्रस्ताव भेजा है। ट्रंप ने कहा कि उनके प्रशासन ने दक्षिणी सीमा पर संकट को खत्म करने के लिए एक प्रस्ताव कांग्रेस को भेजा है। उन्होंने कहा, ‘इसमें मानवीय सहायता, अधिक कानून प्रवर्तन, हमारे बंदरगाहों पर मादक पदार्थों का पता लगाना, उन खामियों को दूर करना जहां से बाल तस्करी होती है और एक नए अवरोधक या दीवार के लिए योजनाएं शामिल हैं।’ उन्होंने कहा, ‘इस कमरे में मौजूद ज्यादातर लोगों ने पूर्व में दीवार के पक्ष में मतदान किया लेकिन दीवार कभी बनी ही नहीं। मैं इसे बनाऊंगा।’ 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement