SC का आदेश लोकतंत्र की जीत, ममता को देना चाहिए इस्तीफा- विजयवर्गीय

img

कोलकाता, मंगलवार, 05 फरवरी 2019। कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार को सीबीआई के समक्ष पेश होने का आदेश देने के लिये भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मंगलवार को उच्चतम न्यायालय का धन्यवाद किया और कहा कि यह ‘लोकतंत्र की जीत’ है। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इस्तीफे की भी मांग की। शीर्ष अदालत ने मंगलवार को कुमार को निर्देश दिया कि वह सीबीआई के समक्ष पेश हों और शारदा चिटफंड घोटाला से जुड़े मामलों की जांच में एजेंसी को ‘ईमानदारी’ से सहयोग करें।

विजयवर्गीय ने कहा कि उच्चतम न्यायालय का आदेश लोकतंत्र की जीत है। ममता बनर्जी को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए। शीर्ष अदालत ने यह भी कहा कि पूछताछ के दौरान कोलकाता पुलिस प्रमुख को न तो गिरफ्तार किया जायेगा और न ही बल का प्रयोग होगा। भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार और राज्य पुलिस ने जांच के दौरान बार-बार रुकावटें पैदा कीं। कई करोड़ रुपये के चिटफंड घोटालों के संबंध में पूछताछ के लिये सीबीआई की टीम रविवार को कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के कोलकाता स्थित आवास गयी थी। लेकिन उन्हें इसकी अनुमति नहीं मिली बल्कि सीबीआई अधिकारियों को जीपों में बैठाकर पुलिस थाने ले जाया गया।

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर राज्य में ‘तख्तापलट’ की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के आदेश पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल सीबीआई को राजनीतिक विरोधियों का ‘‘उत्पीड़न’’ करने का निर्देश दे रहे हैं। विजयवर्गीय ने कहा, ‘ममता बनर्जी एक पुलिस अधिकारी से सीबीआई को पूछताछ करने से रोकने के लिये धरने पर बैठी हैं। बनर्जी अगर चिटफंड निवेशकों का पैसा लौटाने के लिये धरने पर बैठतीं तो इस देश की जनता को अधिक खुशी होती।’

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement