प्रियंका की राजनीति में एंट्री से शिवसेना खुश, कहा- कांग्रेस को होगा फायदा

img

नई दिल्ली, गुरूवार, 24 जनवरी 2019। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले कांग्रेस ने एक बड़ा कदम उठाते हुए प्रियंका गांधी को पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव बना दिया। ऐसे में प्रियंका गांधी की राजनीति में औपचारिक एंट्री हो गई है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश का जनरल सेक्रेट्री नियुक्त किया है। वो फरवरी के पहले हफ्ते में जिम्मेदारी संभालेंगी। बता दे, पूर्वी यूपी में ही पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी और योगी आदित्यनाथ का गढ़ गोरखनाथ भी पड़ता है।

कांग्रेस के इस फैसले को बीजेपी की सहयोगी शिवसेना भी वोट कार्ड बता रही है और प्रियंका गांधी की तुलना उनकी दादी इंदिरा गांधी से की है। शिवसेना प्रवक्ता मनीषा कांयदे ने कहा, ‘जब वोटर आगामी लोकसभा चुनाव में वोट करने जाएगा, तो उसे प्रियंका में इंदिरा गांधी की छवि नजर आएगी,कांग्रेस के लिए ये बड़ी बात है, पार्टी को इसका फायदा पहुंचेगा।’

प्रियंका गांधी की सियासी एंट्री ने विरोधी खेमे में हलचल मचा दी है। बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस के इस फैसले को राहुल गांधी की हार बताया। वहीं बीजेपी की सहयोगी रिपब्लिकन पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री आठवले ने कांग्रेस के इस फैसले से ज्यादा फर्क ना पडऩे की बात कही। यूपी के अलीगढ़ में एक कार्यक्रम में शिरकत करने गए योग गुरु बाबा रामदेव ने इसे कांग्रेस का अंदरुनी मामला बताया लेकिन दो टूक बीजेपी को चेता भी दिया। जेडीयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने इसे भारतीय राजनीति में सबसे लंबा इंतजार बताया।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement