कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की

img

रायपुर, शुक्रवार, 19 अक्टूबर 2018। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के लिए 12 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र के 12 विधानसभा सीट में उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। इस सूची में कांकेर से मौजूदा विधायक शंकर ध्रुवा का टिकट काट दिया गया है। सात अन्य विधायकों को टिकट दी गई है।

बस्तर क्षेत्र के 12 सीटों में से आठ पर कांग्रेस के विधायक है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संचार विभाग के प्रमुख शैलेष नितिन त्रिवेदी ने बृहस्पतिवार को यहां बताया कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने 12 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। त्रिवेदी ने बताया कि कांग्रेस ने अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित कोंटा सीट से मौजूदा विधायक कवासी लखमा, दंतेवाड़ा से देवती कर्मा, कोंडागांव से मोहन मरकाम, केशकाल ने संतराम नेताम, भानुप्रतापपुर से मनोज सिंह मंडावी, चित्रकोट से दीपक कुमार बैज और बस्तर सीट से लखेश्वर बघेल पर एक बार फिर भरोसा जताया है।

दंतेवाड़ा से कांग्रेस की उम्मीदवार और मौजूदा विधायक देवती कर्मा विधानसभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा की पत्नी हैं। महेंद्र कर्मा की नक्सलियों ने 25 मई 2013 को झीरम घाटी के करीब हत्या कर दी थी। इस हमले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं समेत 29 लोगों की मौत हुई थी।कांग्रेस ने कांकेर विधानसभा सीट से मौजूदा विधायक शंकर ध्रुवा की जगह भारतीय प्रशासनिक सेवा के पूर्व अधिकारी शिशुपाल सोरी पर भरोसा जताया है। सोरी अखिल भारतीय आदिवासी कांग्रेस के सदस्य हैं।

त्रिवेदी ने बताया कि कांग्रेस ने नए चेहरे पर भरोसा करते हुए अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित नारायणपुर सीट से चंदन कश्यप को चुनाव मैदान में उतारा है तथा अंतागढ़ सीट से अनुप नाग को उम्मीदवार बनाया है। इसके साथ ही कांग्रेस ने बीजापुर विधानसभा सीट से विक्रम विक्रम शाह मंडावी और बस्तर क्षेत्र के एकमात्र अनारक्षित सीट जगदलपुर सीट से रेखंचंद जैन को अपना उम्मीदवार बनाया है।

वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में विक्रम शाह मंडावी भाजपा के उम्मीदवार और मौजूदा वन मंत्री महेश गागड़ा से हार गए थे। वर्ष 2008 के चुनाव में रेखचंद जैन भाजपा के संतोष बाफना से चुनाव हार गए थे। बाफना जगदलपुर से मौजूदा विधायक हैं। कांग्रेस ने राजनांदगांव जिले के छह सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। छत्तीसगढ़ में दो चरणों में निर्वाचन कार्य संपन्न होगा। प्रथम चरण में 12 नवंबर को 18 विधानसभा क्षेत्रों में तथा दूसरे चरण में 20 नवंबर को शेष 72 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होगा। प्रथम चरण में 12 नवंबर को बस्तर क्षेत्र के जिले बस्तर, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा में तथा राजनांदगांव की 18 सीटों के लिए मतदान होगा।

छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षों से कांग्रेस सत्ता से बाहर है तथा इस बार के चुनाव में वह सत्ता वापसी की कोशिश में है। भाजपा इस चुनाव में 65 से अधिक सीटों में जीत के लक्ष्य के साथ चौथी बार सरकार बनाना चाहती है। राज्य में वर्ष 2013 में हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 90 सीटों में से 49 सीटों पर तथा कांग्रेस को 39 सीटों पर जीत मिली थी। एक एक सीटों पर बसपा और निर्दलीय विधायक हैं। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने अभी तक अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक भाजपा इस महीने की 20 तारीख तक पहली सूची जारी कर सकती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement