हरियाणा में कानून का राज खत्म, राष्ट्रपति शासन लगाया जाए- कांग्रेस

img

नई दिल्ली, सोमवार, 17 सितंबर 2018। कांग्रेस ने हरियाणा में 19 वर्षीय बोर्ड टॉपर लड़की के साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार की घटना को लेकर सोमवार को राज्य की मनोहर लाल खट्टर सरकार पर निशाना साधा और कहा कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए क्योंकि कानून का राज खत्म हो चुका है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री खट्टर बेटियों की सुरक्षा के प्रति ‘संवेदनहीन’ हो गए हैं।

सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘सामूहिक बलात्कार की जघन्य घटना ने पूरे देश और प्रदेश को हिला कर रख दिया है। हरियाणा की सरकार ने कई दिनों तक कोई कार्रवाई नहीं की। राज्य सरकार की ओर से न्यूनतम मानवता भी नहीं दिखाई गई। ऐसा लगता है कि राज्य में कानून का राज खत्म हो गया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब खट्टर जी से इस घटना के बारे में पूछा गया तो वह इतने संवदेनहीन हो गए कि उन्होंने कहा कि वह बेटी के साथ बलात्कार पर नहीं, बल्कि स्वच्छता अभियान पर बोलेंगे। अगर उनसे शासन नहीं चल रहा है और वह बेटियों की सुरक्षा करने में सक्षम नहीं हैं तो वह इस्तीफा दें।’’

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘अगर खट्टर सरकार क़ानून व संविधान का शासन चलाने में असमर्थ हैं तो समय आ गया है कि हरियाणा में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए ताकि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद फिर से कानून का राज बहाल हो सके।’’ रेवाड़ी की रहने वाली छात्रा (19) को बीते बुधवार को पड़ोसी महेंद्रगढ़ जिले के कनीना कस्बे में एक बस स्टॉप से अगवा कर लिया गया था और उसके नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया गया था। इस मामले में निशू नाम के मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दो अन्य मुख्य आरोपियों को पकड़ने के लिए कई जगहों पर छापेमारी जारी है। एक आरोपी सेना का जवान है। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement