किंगफिशर के मामले में बैकफुट पर हैं राहुल गांधी- पात्रा

img

नई दिल्ली, गुरूवार, 13 सितंबर 2018। भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या द्वारा भारत छोडऩे से पहले केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेतली से अपनी मुलाकात का दावा करने के बाद आज भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि किंगफिशर के मामले में राहुल गांधी बैकफुट पर हैं। बीजेपी के प्रवक्ता ने कहा कि कोलकाता के आयकर विभाग ने पता लगाया था कि डोटेक्स कंपनी से राहुल गांधी ने 1 करोड़ का लोन लिया था। शेल कंपनी डोटेक्स के प्रमोटर उदयशंकर महावर ने पूछताछ में स्वीकार किया था कि उसकी 200 से अधिक शेल कंपनियां है। 194वें नंबर पर डोटेक्स कंपनी का नाम दर्ज है। 

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी काले धन का प्रयोग कर चुके हैं, जबकि उनके परिवार का रिश्ता हवाला कारोबारियों से है। पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल ने पांच हजार करोड़ रुपए का गबन किया है। भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को गांधी परिवार का आशीर्वाद प्राप्त है। पात्रा ने आरोप लगाया कि नोटबंदी के कारण राहुल गांधी हायतौबा मचा रहे थे क्योंकि हवाला के जरिए काले धन को सफेद किया जा रहा था। उन्होंने पूछा कि राहुल गांधी आपने हवाला के जरिए कितना पैसा सफेद किया है। गांधी परिवार का कितना पैसा ऐसी कंपनियों में लगा है? 

बता दें कि अदालत के बाहर विजय माल्या ने बताया था कि उसने देश छोडऩे से पहले वित्त मंत्री से मुलाकात की थी और बैंकों के साथ मामले का निपटारा करने की पेशकश की थी। बैंक ने सेटलमेंट लेटर पर आपत्ति जताई थी। माल्या ने कहा, "मैं भारत से रवाना हुआ, क्योंकि मेरा जेनेवा में एक मुलाकात का कार्यक्रम था।" माल्‍या ने कहा कि आईडीबीआई बैंक के अधिकारी किंगफिशर को हुए घाटे से अच्‍छी तरह वाकिफ थे। बैंक अधिकारियों के ई-मेल से यह बात साबित होती है। ऐसे में, सरकार ने उन पर कंपनी को हुए घाटे को छिपाने का जो आरोप लगाया है, वो आधारहीन है। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement