त्रिपुरा के सीएम बिप्लव देव की नागरिकता पर उठे सवाल

img

नई दिल्ली, सोमवार, 06 अगस्त 2018। असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन (NRC) का फाइनल ड्राफ्ट जारी होने के बाद नागरिकता पर बहस और विवाद जारी है. इसी मामले में त्रिपुरा के सीएम बिप्लब कुमार देब का नाम चर्चा में आ गया है. कहा जा रहा है कि उनका जन्म बांग्लादेश में हुआ. इसके लिए उनके नाम के विकीपीडिया पेज पर 37 बार फेरबदल किए गए. उधर खुद बिप्लब कुमार देब की की ओर से कहा गया है कि वह भारतीय हैं और उनका जन्म त्रिपुरा में ही हुआ है. उनके विकीपीडिया पेज पर बार बार फेरबदल कर ये बताया जा रहा है कि उनका जन्म बांग्लादेश में हुआ है.

असम में एनआरसी जारी होने के बाद पूर्वोत्तर के कई राज्यों में इसे लागू करने की मांग की जा रही है. इसमें त्रिपुरा भी एक है. लेकिन अब राज्य के सीएम की नागरिकता पर ही सवालिया निशान लगा दिया गया है. टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, हालांकि सीएम बिप्लब देब के मीडिया एडवाइजर संजय मिश्रा ने कहा है कि, "सीएम बिप्लब देब के विकिपीडिया पेज से छेड़छाड़ हो रही है. उन्हें बांग्लादेशी बताया जा रहा है. लेकिन सच तो यह है कि बिप्लब देब का जन्म भारत में ही हुआ है.''

कहा जा रहा है कि बिप्लब देब का पेज 37 बार एडिट किया गया. इसमें उनके जन्मस्थान को त्रिपुरा के गोमती जिले से बदलकर बांग्लादेश के चांदपुर बताया जा रहा था. हालांकि फिलहाल उसे फिर से बदलकर त्रिपुरा कर दिया गया है. उधर, सरकार की ओर से कहा गया है कि हमें इस बारे में पहले ही पता चल गया था. सीएम के मीडिया एडवाइजर संजय मिश्रा ने कहा, 'हमारा मानना है कि विकिपीडिया और ऐसी दूसरी वेबसाइटों की निगरानी होनी चाहिए.  ऑनलाइन क्या जा रहा है इस पर नियंत्रण होना चाहिए.'

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने आज कहा कि राज्य में सभी के पास वैध दस्तावेज हैं और असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी की तर्ज पर राज्य में नागरिक पंजी की कोई मांग नहीं है. उन्होंने इस बात पर भी भरोसा व्यक्त किया कि असम में उनके समकक्ष कल एनआरसी के अंतिम मसौदे के जारी होने के बाद बनी स्थिति से निपटने में पूरी तरह सक्षम हैं. 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement