बिहार में भी लागू होना चाहिए NRC- चौबे

img

नई दिल्ली, मंगलवार, 31 जुलाई 2018। संसद के मानसून सत्र में आज राज्यसभा में एक बार फिर से एनआरसी मुद्दा उठा। जिसको लेकर अब सियासत तेज हो गई। इसी मुद्दे पर जब बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सदन में बोलना शुरू किया तो विपक्षी सुर हावी हो गए और मजबूरन सभापति को सदन स्थगित करना पड़ा। वहीं, बीजेपी के नेता ने बांग्लादेशियों को देश से बाहर धकेलने की भी बात की।

एक चर्चित हिंदी मीडिया चैनल के समक्ष अश्विनी चौबे ने कहा कि अब बिहार में भी शुरू करना चाहिए NRC। इसी के साथ उन्होंने कहा कि जो भी भारत का नागरिक है सिर्फ उन्हीं को इस देश में रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि बांग्लादेशियों ने देश को बहुत ज्यादा प्रभावित करने का प्रयास किया है और मुझे नहीं लगता कि अमित शाह ने राजीव गांधी के बयान को तोड़ने-मरोड़ने का प्रयास किया है। कांग्रेस जो भी आरोप लगा रही है वो सरासर बेबुनियाद है। 

गौरतलब है कि अमित शाह ने NRC ड्राफ्ट को जायज बताते हुए राज्यसभा में कहा कि घुसपैठियों की पहचान जरूरी थी इसलिए यह ड्राफ्ट लागा गया है। उन्होंने अपनी करकार की पीठ थपथपातें हुए कहा कि घुसपैठियों की पहचान करने की हिम्मत आज तक किसी सरकार ने नहीं दिखाई पर आज ऐसी सरकार है जो हिम्मत दिखाते हुए घुसपैठियों की पहचान कर रही हैं। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement