कारगिल विजय दिवस: देश के लिए कुर्बान हुए वीर सपूतों को PM, राष्ट्रपति ने किया नमन

img

नई दिल्ली, गुरूवार, 26 जुलाई 2018। कारगिल जंग के 19 साल हो गए हैं। 26 जुलाई 1999 को ही भारतीय सेना ने कारगिल में तिरंगा फहराया था तब से हर साल इस दिन को कारगिल विजय दिवस के तौर पर मनाया जाता है। आज पूरा देश मातृभूमि की रक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए शहीदों को याद कर श्रद्धा-सुमन अर्पण कर रहा है। राजधानी दिल्ली में भी रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सेनाध्यक्ष जनरल बिपीन रावत, नौसेना अध्यक्ष एडमिरल सुनील लांबा, वायुसेना अध्यक्ष बिरेन्द्र सिंह धनोआ ने राजधानी दिल्ली स्थित अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। 

वही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी शहीदों को या​द कर श्रद्धांजलि दी। मोदी ने ट्वीट किया कि कारगिल विजय दिवस पर राष्ट्र उन लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है, जिन्होंने ऑपरेशन विजय के दौरान देश की सेवा की। हमारे बहादुर सैनिकों ने यह सुनिश्चित किया कि भारत सुरक्षित रहे और शांति के माहौल को खराब करने की कोशिश करने वालों को उचित उत्तर दिया।

पीएम ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि ऑपरेशन विजय के दौरान अटल जी द्वारा प्रदान किए गए उत्कृष्ट राजनीतिक नेतृत्व को भारत हमेशा गर्व के साथ याद रखेगा। उन्होंने हमारे सशस्त्र बलों का समर्थन किया और विश्व स्तर पर भारत का रूख स्पष्ट किया।

वहीं कोविंद ने ट्वीट करके कहा कि कारगिल विजय दिवस पर, प्रत्येक भारतीय हमारी सशस्त्र सेनाओं के प्रयासों और पराक्रम की सराहना करता है। सभी देशवासी कारगिल के शहीदों के परम बलिदान को नमन करते हैं। हम उनके परिवार-जनों के प्रति सदैव ऋणी रहेंगे ।

इसके साथ ही राज्यसभा में भी कारगिल विजय दिवस के मौके पर शहीदों को याद किया गया। सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि आज कारगिल विजय दिवस की 19वीं वर्षगांठ है और इसी दिन सेना के वीर जवानों ने अदम्य साहस और अपने रण कौशल का परिचय देते हुए कारगिल की चोटियों को दुश्मन के कब्जे से छुड़ाया था। इस दौरान कई जवानों ने मातृभूमि की रक्षा में अपने प्राण न्यौच्छावर किये।  उन्होंने कहा कि यह सदन शहीद जवानों को नमन करता है और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement