राजस्थान डिजिफेस्ट के तहत दो दिवसीय जॉब फेयर प्रारम्भ

img

  • प्रदेश भर से हजारों अभ्यर्थियों ने लिया भाग

जयपुर, बुधवार, 25 जुलाई 2018। ‘राजस्थान डिजिफेस्ट’ के तहत बुधवार को बीकानेर के राजकीय आईटीआई महाविद्यालय में दो दिवसीय जॉब फेयर का शुभारंभ महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. भगीरथ सिंह तथा आईटी विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री अखिल अरोड़ा ने किया। 

इस अवसर पर कुलपति श्री सिंह ने कहा कि तीन दिवसीय डिजिफेस्ट का आयोजन बीकानेर सहित प्रदेश के अन्य जिलों के युवाओं के लिए रोजगार की दिशा में महत्वपूर्ण अवसर साबित होगा। उन्होंने कहा कि शिक्षण संस्थानों द्वारा युवाओं को रोजगारोन्मुखी कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाए। नौकरी लगने के पश्चात युवा पूर्ण निष्ठा व ईमानदारी से दायित्व निर्वहन करें। उन्होंने युवाओं को असफलता से बिना घबराए, भविष्य में और अधिक मेहनत कर सफलता हासिल करने की अपील की।

प्रमुख शासन सचिव श्री अरोड़ा ने कहा कि युवाओं को रोजगार के अधिकाधिक अवसर उपलब्ध करवाने के लिए सूचना, प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा जॉब फेयर में नियोक्ताओं, तकनीकी प्रबंधकों व उम्मीदवारों को एक मंच पर लाने का अनूठा प्रयास किया गया है। उन्होंने कहा कि अधिकाधिक युवा इस अवसर का लाभ उठा कर अपने भविष्य को संवारें। वर्तमान युग आईटी का युग है और गांव-गांव तक इसके प्रयोग से लोगों का जीवन आसान हुआ है। 

हजारों युवाओं ने करवाया रजिस्ट्रेशन

जॉब फेयर में प्रदेश के विभिन्न जिलों से हजारों की संख्या में अभ्यर्थी पहुंचे। लम्बी-लम्बी कतारों में लग कर युवाओं ने रजिस्ट्रेशन करवा कर शैक्षणिक योग्यता के आधार पर टोकन प्राप्त किए। प्रत्येक अभ्यर्थी को 3 विभिन्न कंपनियों में इंटरव्यू देने के लिए स्लिप प्राप्त हुई। जॉब फेयर में देश भर की 160 से ज्यादा कंपनियां हिस्सा ले रही हैं जिनके द्वारा करीब 15 हजार से ज्यादा जॉब ऑफर किए जा रहे हैं। जॉब फेयर में दसवीं, बारहवीं, आईटीआई, स्नातक, स्नातकोत्तर, बीटेक, एमसीए, एमबीए आदि शैक्षणिक योग्यताओं के आधार पर इंटरव्यू के लिए बुलाया जा रहा है। जॉब फेयर में अभ्यर्थियों को इंटरव्यू तकनीक के बारे में सामान्य जानकारी भी दी गई तथा क्विज का आयोजन किया गया।

सुपर 100 

सूचना, प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा एक अनूठी योजना सुपर 100 क्रियान्वित की जाएगी। इसके तहत जॉब फेयर के दौरान नौकरी मिलने से वंचित रहे 100 प्रतिभागियों को चयनित कर उन्हें पांच दिवसीय निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रतिभागियों को व्यावहारिक कौशल, व्यक्तिगत विकास, साक्षात्कार युक्तियों के विषय में प्रशिक्षित किया जाएगा, जिससे उन्हें रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त हो सकें। इस अवसर पर आईटी विभाग के तकनीकी निदेशक श्री सुनील छाबड़ा, सहायक कलक्टर मोनिका बलारा, ज्योति लुहाड़िया, श्री राजेश सैनी सहित आईटी विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement