नोएडा इमारत हादसा: बारिश ने डाली बाधा

img

  • मलबा साफ करने में लगेंगे अभी और 24 घंटे

नोएडा, शुक्रवार, 20 जुलाई 2018। शाहबेरी गांव में भरभराकर गिरी 2 इमारतों का मलबा हटाने का काम सुबह हुई बारिश से प्रभावित हुआ। अधिकारियों का कहना है कि मलबा पूरी तरह साफ होने में अभी और 24 घंटे लगेंगे। मुख्य दमकल अधिकारी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि एनडीआरएफ, दमकल, पुलिस और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी तथा कर्मचारी लगातार राहत एवं बचाव कार्य में जुटे हैं। करीब 80 प्रतिशत मलबा हटा लिया गया है। उन्होंने कहा कि बचे हुए मलबे हो हटाने में करीब 24 घंटे का वक्त और लगेगा। सिंह ने कहा कि शुक्रवार सुबह तक मलबे से और कोई शव नहीं मिला है।

उल्लेखनीय है कि पुलिस ने इस मामले में 24 लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कर 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में जमीन के मालिक गंगा शंकर द्विवेदी, ठेकेदार कासिम, सहयोगी ठेकेदार सोनू पाठक, और प्रॉपर्टी डीलर दिनेश एवं संजीव शामिल हैं। हादसे में मारे गए 9 लोगों में से अभी तक 6 लोगों की पहचान नौशाद, शमशाद, राजकुमारी, प्रियंका, रंजीत और पंखुड़ी (14 माह) के रूप में हुई है। अन्य लोगों की पहचान की कोशिश की जा रही है।

बता दें कि कि बिसरख थाना क्षेत्र के शाहबेरी गांव में अवैध रूप से बनाई जा रही 6 मंजिला इमारत मंगलवार की रात को भरभरा कर पड़ोस में ही बनी दूसरी इमारत पर गिर गई थी। उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपए आर्थिक मुआवजा देने की घोषणा की है।

सरकार ने हादसे के बाद ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक वीपी सिंह व सहायक महाप्रबंधक अख्तर अब्बास जैदी को गुरुवार रात तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया, जबकि विशेष कार्य अधिकारी विभा चहल का तबादला कर दिया गया है। गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह ने अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) विनीत कुमार सिंह को मामले की मजिस्ट्रेटी जांच सौंपी है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement