अलगाववादियों की हड़ताल के चलते जम्मू्-श्रीनगर NH पर रोका गया यातायात

img

बनिहाल/जम्मू, रविवार, 08 जुलाई 2018। हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की मौत की दूसरी बरसी पर अलगाववादियों के बंद के आह्वान को देखते हुये अधिकारियों द्वारा घाटी के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध लगाये जाने के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर के पांच थाना क्षेत्रों में रोक लगाई गई है।

उन्होंने बताया कि ग्रीष्मकालीन राजधानी के पांच थाना क्षेत्रों - नौहट्टा, खानयार, रैनावाड़ी, सफाकदल और महराजगंज- में रो लगाई गई है। यह सभी क्षेत्र पुराने शहर के इलाके में स्थित हैं। अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के पुलवामा और त्राल उपनगरों में प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने बताया किसी अप्रिय स्थिति से बचने और कानून एवं व्यवस्था को बनाए रखने के लिए एहतियाती उपाय के तौर पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।

वहीं कश्मीर को पूरे देश से जोड़ने वाले जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग और जम्मू क्षेत्र के सीमांत जिलों पूंछ तथा राजौरी को दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले से जोड़ने वाले मुगल रोड पर अधिकारियों ने आज यातायात एहतियाती तौर पर रोक दिया जिसके कारण अमरनाथ यात्रियों समेत हजारों लोग बीच राह में फंस गए। हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर अलगाववादियों ने आज हड़ताल करने की घोषणा की थी जिसके बाद पुलिस महानिदेशक एसपी वेद ने अमरनाथ यात्रा को आज निलंबित रखने संबंधी घोषणा कल ही कर दी थी। 

एक सरकारी अधिकारी ने कहा, ‘‘किसी भी यात्री को भगवती नगर आधार शिविर से निकलने की इजाजत नहीं दी गई और जो श्रीनगर आ चुके हैं और कश्मीर के रास्ते में हैं उन्हें जम्मू - श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर विभिन्न स्थानों पर रोक दिया गया।’’ उन्होंने बताया कि बुरहान की दूसरी बरसी पर अलगाववादियों की बंद की घोषणा के मद्देनजर यह कदम एहतियाती तौर पर उठाया गया है। वेद कल कठुआ जिले में अमरनाथ यात्रियों के लिए बंदोबस्त का निरीक्षण करने गए थे । उसी दौरान उन्होंने आज यात्रा बंद रखने की घोषणा की थी और तीर्थयात्रियों से सहयोग मांगा था। 

डीजीपी ने कहा था, ‘‘यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है। तीर्थयात्रियों से मेरी अपील है कि घाटी में हालात (कानून - व्यवस्था) को ध्यान में रखते हुए वह हमारे साथ सहयोग करें।’’  रामबन के एक यातायात पुलिसकर्मी ने बताया कि कल शाम करीब 2,000 पर्यटकों और यात्रियों को जम्मू से कश्मीर की ओर जाने से रोका गया। उन्होंने कहा ,‘‘ घाटी में बने हालात के चलते राजमार्ग पर यातायात रोका गया। आज सुबह से किसी भी वाहन को जम्मू से श्रीनगर जाने की इजाजत नहीं दी गई। ’’ एक अधिकारी ने कहा कि राजमार्ग के निकट बनिहाल पर सुरक्षा बल को पर्याप्त संख्या में तैनात किया गया है। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement