मंदसौर में बच्ची से निर्भया जैसी हैवानियत

img

काटनी पड़ी आंतें

मंदसौर, शुक्रवार, 29 जून 2018। 16 दिसंबर 2012 निर्भया रेपकांड का नाम जब भी सामने आता है कि हर किसी की रूह कांप उठती है। मध्यप्रदेश के मंदसौर में एक सात साल की बच्ची के साथ भी निर्भया जैसी हैवानियत की गई। बीते दिनों बच्ची के साथ हुई दरिंदगी के बाद अब तक उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। बच्ची का इंदौर के एमवाय अस्पताल में इलाज चल रहा है।

डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची का अधिक खून बह जाने के कारण कुछ कहा नहीं जा सकता। आरोपी ने मासूम के साथ दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी थी। मासूम के जिस्म पर कई जगह दांत के काटने के निशान हैं। नाक पर जोर से मारे जाने के चलते उसमें गहरी चोट आई हुई है। डॉक्टरों के मुताबिक जिस वक्त बच्ची को लाया गया था। उसके प्राइवेट पार्ट में चोट गहरी थी। वहीं नाक से खून आने और चोट गहरी होने के चलते नेसोगेस्ट्रिक ट्यूब का भी इस्तेमाल किया गया था।

ऑपरेशन कर काटी गई आंत-
हालत में जब सुधार नहीं आया और प्राइवेट पार्ट से खून आना जब बंद नहीं हुआ तो डॉक्टरों की स्पेशल टीम ने ऑपरेशन कर बच्ची की आंत को काटा। आंतों को काटकर बाहर एक रास्ता बनाकर प्राइवेट पाट्र्स को ऑपरेट किया गया। जिसके बाद भी अब तक बच्ची की हालत गंभीर ही बनी हुई है।

ये है पूरी घटना-
मंदसौर में बीते दिनों स्कूल की छुट्टी के बाद आरोपी ने बच्ची को मिठाई खिलाने का लालच दिया। जिसके बाद बच्ची उसके पीछे चली गई। जहां आरोपी ने एक खाली पड़े प्लॉट में बच्ची के साथ दरिंदगी की। जब उससे भी उसका मन नहीं भरा तो उसने उसे गंभीर रूप से घायल करके झाडिय़ों में ही फेंक दिया। बच्ची के घर न पहुंचने पर परिजनों ने इसकी रिपोर्ट पुलिस में कराई थी। जहां पुलिस ने खोजबीन के दौरान बच्ची को घायल अवस्था में झाडिय़ों में पाया था।

घटना के बाद से पूरा मंदसौर बंद-
वहीं जब इसकी सूचना लोगों को लगी तो सैकड़ों लोग सडक़ पर उतर आए। और आरोपी को फांसी दिलाने की मांग करने लगे। वहीं अधिवक्ताओं ने घटना को लेकर सभी वकीलों से अपील की। कि आरोपी का कोई भी केस न लड़े। साथ ही मामले की सुनवाई नार्मल कोर्ट में न होकर फास्ट ट्रैक कोर्ट में की जाए। लोगों के गुस्से को देखते हुए शहर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement