मनोहर पर्रिकर इलाज कराकर अमेरिका से लौटे

img

भगवान का आशीर्वाद लेकर संभाली कुर्सी

नई दिल्ली, शुक्रवार, 15 जून 2018। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर अमेरिका में अपने तीन महीने के इलाज के बाद गुरुवार को घर लौटे. मनोहर पर्रिकर अग्नाशय संबंधी बीमारी के इलाज के लिए मार्च में अमेरिका गए थे. मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी के मुताबिक पर्रिकर 10 जून को पहले मुंबई पहुंचे थे और उसके बाद दूसरी फ्लाइट से वह पणजी आए. इसके बाद शुक्रवार को वह सबसे पहले पणजी में महालक्ष्मी मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे. दर्शन के बाद पर्रिकर फिर से अपने काम पर लौट गए हैं. 

गौरतलब है कि, उनकी इस बीमारी के बारे में फरवरी में पता चला था. बीमारी का पता चलने के बाद पर्रिकर को 15 फरवरी को मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उन्हें 22 फरवरी को अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी. इसके बाद वह गोवा लौटे और उसी दिन विधानसभा में बजट पेश किया. हालांकि पानी की कमी के कारण उन्हें 25 फरवरी को गोवा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें चार दिन बाद अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी. मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर मार्च में एक बार फिर चिकित्सक जांच के लिए मुंबई गए थे और उन्हें अमेरिका में ट्रीटमेंट कराने के लिए रेफर कर दिया गया था. जिसके बाद वह अमेरिका रवाना हो गए थे.

ANI@ANI

#Goa: Chief Minister Manohar Parrikar visits Mahalaxmi Temple in Panaji, he returned from USA yesterday, where he was undergoing treatment for a pancreatic ailment.

11:01 AM - Jun 15, 2018

हालांकि, 14 जून को अमेरिका से लौटने के बाद पर्रिकर 15 जून से काम पर लौट आए हैं. 

ANI@ANI

Panaji: Goa Chief Minister #ManoharParrikar resumes work at his office in the state secretariat. He has recently returned from USA, where he was undergoing treatment for a pancreatic ailment since the last two and a half months.

12:08 PM - Jun 15, 2018

विदेश में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किया काम
पर्रिकर ने विदेश में अपने इलाज के लिए 6 मार्च को राज्यपाल मृदुला सिन्हा को एक पत्र लिखा था. पत्र में उन्होंने गोवा और मुंबई के डॉक्टरों की तरफ से उन्हें विशेष इलाज के लिए विदेश जाने की जानकारी दी थी. इस दौरान उन्होंने कहा था कि वह राज्य में मंत्री परिषद की बैठक की अध्यक्षता वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या सर्क्युलेशन के जरिए करेंगे.

वहीं उनकी गैर मौजूदगी में तीन सदस्यीय दल ने प्रदेश का कार्यभार संभाला. गोवा के कला एवं संस्कृति मंत्री गोविंद गावड़े ने कहा था, तीन सदस्यीय दल के पास 5 करोड़ तक के कार्य को मंजूरी देने की शक्ति होगी. वहीं प्रत्येक मंत्री के पास 50 लाख तक के ठेके को मंजूरी देने का अधिकार होगा.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement