हिमाचल में भी मंडरा रहा Nipah Virus का खतरा!

img

एक साथ दर्जनभर चमगादड़ों की मौत

शिमला, गुरूवार, 24 मई 2018। निपाह वायरस (Nipah Virus) जानलेवा रूप ले चुका है. इससे अब तक दर्जन भर लोगों की मौत हो चुकी है. इस वायरस का असर धीरे-धीरे पूरे भारत में दिखने लगा है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के नहान सब डिवीजन के एक सीनियर सेकेंड्री स्कूल में करीब दर्जन भर मरे हुए चमगादड़ पाए गए हैं.

इस घटना के बाद इलाके के लोगों में डर का माहौल है. उन्हें इस बात का डर है कि निपाह वायरस की पहुंच यहां तक हो चुकी है. स्थानीय लोगों डरे हुए हैं कि, क्योंकि उन्हें लगता है कि निपाह वायरस की वजह से ही इतने चमगादड़ों की मौत हुई है. सूचना मिलने के बाद मौके पर पशु चिकित्सकों की एक टीम पहुंची और सैंपल कलेक्ट कर जांच के लिए भेज दिया है. टेस्ट रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की असली वजहों का पता चल पाएगा. कलेक्ट किए गए सैंपल को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरल डिजीज, पुणे और जालंधर भेजा गया है. 

एक स्कूल में  मृत पाए गए चमगादड़
स्कूल कैंपस में एक पेड़ के नीचे एकसाथ दर्जन भर मृत चमगादड़ पाए गए. इसकी जानकारी स्कूल प्रबंधन ने जिला प्रशासन को दी. जिला प्रशासन ने पशु चिकित्सकों की टीम को मौके पर भेजा. पशु चिकित्सकों की टीम मौके पर पहुंची और सैंपल कलेक्ट करने के बाद मृत चमगादड़ों को दफना दिया. सिरमौर जिले के डिप्टी कमिश्नर, ललित जायल ने कहा कि चमगादड़ों की मौत की खबर के बाद तुरंत हमने मेडिकल टीम को मौके पर भेजा. 

मृत चमगादड़ों को दफना दिया गया
मौत की वजह जानने के लिए सैंपल कलेक्टर कर लिए गए हैं, जबकि किसी तरह के अन्य नुकसान से बचने के लिए चमगादड़ों को दफना दिया गया है. क्या चमगादड़ों की मौत निपाह वायरस की वजह से हुई है? जवाब में डिप्टी कमिश्नर जायल ने कहा कि जब तक लैब रिपोर्ट नहीं आ जाती है, तब तक इसके बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement