नीतीश ने राजनाथ से कहा, शीघ्र केंद्रीय बल उपलब्ध कराने के लिए विकसित हो तंत्र

img

पटना, सोमवार, 23 अप्रैल 2018। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से आग्रह किया कि वे ऐसा तंत्र विकसित कर दें जिससे कि मुश्किल हालात में प्रदेश के पुलिस महानिदेशक के आग्रह पर तुरंत केंद्रीय बल उपलब्ध हो सकें। सारण जिले के जलालपुर में भारत-तिब्बत सीमा बल (आईटीबीपी) के छठी वाहिनी परिसर में नवनिर्मित भवनों के उद्घाटन के मौके पर नीतीश ने यह बात कही। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भवन का उद्घाटन किया।

अपने संबोधन में नीतीश ने सिंह से आग्रह किया कि वे ऐसा तंत्र विकसित कर दें जिससे कि मुश्किल हालात में प्रदेश के पुलिस महानिदेशक के आग्रह पर तुरंत केंद्रीय बल उपलब्ध हो सके। नीतीश ने कहा कि उनके आग्रह पर गृह मंत्री ने वैशाली में रैपिड एक्शन फोर्स गठित कराने का आश्वासन दिया है, इसके लिए वे प्रति आभार प्रकट करते हैं और उन्हें धन्यवाद देते हैं क्योंकि जरूरत होती है तो हमें रैपिड एक्शन फोर्स को जमशेदपुर से बुलाना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि बिहार बाढ़ प्रभावित राज्य हैं और आईटीबीपी के जवान यहां रहेंगे तो हमें काफी फायदा होगा। नीतीश ने कहा कि बिहार में आबादी का घनत्व काफी ज्यादा है। बिहार का क्षेत्रफल करीब 94 हजार वर्ग किलोमीटर है, जबकि आबादी 12 करोड़ है। आबादी का ज्यादा घनत्व होने के कारण आपदा की स्थिति में यहां तबाही अधिक होती है। कुदरत का कहर कभी-कभी ऐसा होता है कि केंद्रीय बलों की जरूरत पड़ती है।

समारोह के दौरान आईटीबीपी के जवानों को उनके द्वारा किये गए साहसिक कार्यों के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा उन्हें सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वाले आईटीबीपी जवानों में 40 बटालियन के हेड कॉन्स्टेबल नरेन्द्र कुमार, 41 बटालियन के कांस्टेबल विमल विश्वास, 22 बटालियन के हेड कॉन्स्टेबल सुजान सिंह, 44 बटालियन के डिप्टी कमांडेंट राजेश कुमार, इंस्पेक्टर जीडी जितेंद्र कुमार, 44 बटालियन के हेड कांस्टेबल महेश कुमार, 44 बटालियन के कांस्टेबल अनिल नेगी का नाम शामिल हैं।

समारोह को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद राजीव प्रताप रुडी, सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, आईटीबीपी के महानिदेशक आर के पचनंदा ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सांसद ओमप्रकाश यादव एवं जनक राम, विधायक शत्रुघन तिवारी एवं कविता देवी, विधान पार्षद वीरेन्द्र नारायण यादव एवं सचिदानंद राय, बिहार के पुलिस महानिदेशक के एस द्विवेदी, गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति, उपस्थित थे।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement