कर्नाटक चुनाव में सभी सीटों पर पार्टियों की होगी कड़ी टक्कर- मोइली

img

नई दिल्ली, बुधवार, 18 अप्रैल 2018। कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार तेज होने के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने कहा कि चुनाव लड़ रहे तीनों राजनीतिक दलों (कांग्रेस, भाजपा एवं जेडीएस) के बीच एक एक सीट के लिए कड़ी टक्कर है और चुनाव के बाद जेडीएस के साथ कांग्रेस के किसी तरह के गठबंधन की संभावना खारिज कर दी। मोइली ने साथ ही दागी खनन कारोबारी जी जनार्दन रेड्डी के बड़े भाई को बेल्लारी से टिकट देने के मुद्दे पर भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इससे पता चलता है कि कर्नाटक का मुख्य विपक्षी दल एक असहज स्थिति में है।

ल्लेखनीय है कि 224 सीटों वाली प्रदेश विधानसभा के लिए 12 मई को चुनाव होगा। सत्तारूढ़ कांग्रेस ने 218 उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है और बाकी सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम को अंतिम रूप देने में लगी है। मोइली ने कहा कि, ‘चुनाव में कुछ भी आसान नहीं होता। चुनाव और युद्ध एक ही जैसे हैं। उसमें लड़ना पड़ता है। जहां हम जीत को लेकर आश्वस्त हैं, हमें हर सीट के लिए लड़ना होगा।’

उन्होंने कांग्रेस को सहजता से बहुमत मिलने का भरोसा जताते हुए कहा कि जेडीएस से समर्थन मांगने का सवाल ही नहीं उठता। मोइली ने दावा किया कि सत्तारूढ़ दल ने पिछले पांच साल में काफी अच्छा काम किया है और कोई सत्ताविरोधी लहर नहीं है जिससे उसकी चुनावी संभावनाओं पर असर पड़े। याद रहे कि 2004 में कांग्रेस ने गठबंधन सरकार के गठन के लिए जेडीएस से हाथ मिलाया था लेकिन सरकार केवल 20 महीने तक चली।

पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा के उलट कांग्रेस के राज्य में बेहतर स्थिति में होने की बात पर जोर देते हुए कहा कि कर्नाटक में भाजपा के धन बल और कट्टरपंथ काम नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि, ‘साथ ही वहां कोई मोदी लहर नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी पूरी साख गंवा दी है। सबको पता है कि उन्होंने जो भी कहा, वह चुनावी जुमला था।’ कांग्रेस नेता ने दावा किया कि मोदी की छवि बहुत खराब हो गयी है और यह चुनाव प्रचार के दौरान काफी हद तक नजर आएगा।

चिकबल्लपुर के सांसद ने साथ ही कहा कि मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा के उम्मीदवार बी एस येदियुरप्पा की छवि भी खराब हो चुकी है। मोइली ने कहा कि भाजपा ने बेल्लारी शहर से जी जनार्दन रेड्डी के बड़े भाई सोमशेखर रेड्डी को टिकट देकर राज्य का राजनीतिक माहौल और प्रदूषित कर दिया है और इससे पता चलता है कि विपक्षी दल किस तरह से सत्ता दोबारा पाने के लिए एक असहज स्थिति में है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement