कठुआ रेप कांड से हूं परेशान, बच्ची के दोषियों को मिले फांसी- मेनका गांधी

img

नई दिल्ली, शुक्रवार, 13 अप्रैल 2018। जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की मासूम बच्ची का बलात्कार और हत्या मामले को लेकर पूरे देश में गुस्सा है। वहीं इस मुद्दे ने राजनीति रूप ले लिया है भाजपा और कांग्रेस नेताओं के बीच आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। देश भर में जारी रोष के बीच महिला एवं बाल विकास मंत्री ने बच्चों के साथ दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि उनका मंत्रालय दोषियों के लिए मृत्युदंड की सजा के प्रावधान के लिए पॉस्को एक्ट में संशोधन की मांग पर विचार कर रहा है।

पोस्को ऐक्ट में करेंगे बदलाव 
महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार को एक विडियो जारी कर कहा कि मैं कठुआ और हालिया रेप मामलों को जानकर बहुत ज्यादा डिस्टर्ब हो गई हूं। वह मंत्रालय के साथ मिलकर पोस्को ऐक्ट में संशोधन का प्रस्ताव रखेंगी जिसके अनुसार 12 साल से कम बच्चों के रेप के मामले में मौत की सजा का प्रावधान हो। वहीं कांग्रेस की वरिष्ठ नेता अंबिका सोनी ने कहा कि कठुआ में जो हुआ वह हमारे समाज के लिए कलंक है। हम इतने अमानवीय कैसे हो सकते हैं। अपराधियों को पकड़ने में इतना वक्त लग गया जबकि सभी जानते थे कि वे कौन हैं और कहां हैं। 

कठुआ कांड से देश भर में रोष 
बता दें कि जनवरी में कठुआ के रसाना गांव में बकरवाल समुदाय की आठ वर्षीय बच्ची को अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या में मास्टरमाइंड सांझी राम सहित आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। जांच से यह बात सामने आई कि बच्ची को मंदिर में बंधक बनाकर रखा गया था और उसे आठ दिनों तक भूखा रखकर नशीली दवाएं दी गई और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। इसके बाद मासूम की नृशंस हत्या कर दी गई। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement