अलगाववादियों के बंद के मद्देनजर श्रीनगर में प्रतिबंध

img

ट्रेन और इंटरनेट प्रभावित

श्रीनगर, गुरूवार, 12 अप्रैल 2018। श्रीनगर प्रशासन ने अलगाववादियों द्वारा आहूत बंद के मद्देनजर गुरुवार(12 अप्रैल) को शहर के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिया है. अलगाववादियों ने बुधवार को कुलगाम में सुरक्षा बलों के साथ आंतकवादियों की मुठभेड़ के दौरान चार नागरिकों के मारे जाने के विरोध में बंद आह्वान किया है. सैयद अली गिलानी, मीरवाइज उमर फारूक और मुहम्मद यासीन मलिक के नेतृत्व वाले अलगाववादी संगठन संयुक्त प्रतिरोध नेतृत्व (जेआरएल) ने बंद का आह्रान किया है. 

महबूबा ने रद्द की कैबिनेट की बैठक
पुलिस ने कहा कि श्रीनगर के पुराने शहर में और मैसुमा और क्रालखुद पुलिस स्टेशनों के अधिकार क्षेत्र में आने वाले उपनगरीय इलाकों में प्रतिबंध लगाया गया है. मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती बुधवार को कुलगाम जिले में हुई मुठभेड़ के बाद स्थिति का जायजा लेने के लिए गुरुवार को होने वाली एक कैबिनेट बैठक को रद्द कर श्रीनगर लौट आईं हैं. 

पुलिस हिरासत में यासीन मलिक
गिलानी और मीरवाइज उमर फारूक घर में नजरबंद हैं. वहीं, यासीन मलिक को पुलिस हिरासत में रखा गया है. प्रशासन ने उत्तरी कश्मीर के गंदरबाल जिले को छोड़कर घाटी के सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया है. कश्मीर विश्वविद्यालय में आज के लिए निर्धारित परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. घाटी में श्रीनगर और अन्य जिला मुख्यालयों में दुकानें, सार्वजनिक परिवहन और अन्य उद्यम बंद हैं. 

ट्रेन और इंटरनेट सेवा हुई प्रभावित
कश्मीर घाटी में पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के भारी दल तैनात किए गए हैं. बारामूला और बनिहाल शहर के बीच ट्रेन सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं. अनंतनाग, शोपियां, कुलगाम और पुलवामा जिलों में मोबाइल इंटरनेट सुविधा बंद कर दी गई है. भड़काऊ चित्रों, वीडियो और अन्य पोस्ट के प्रसार को रोकने के लिए घाटी के अन्य सभी क्षेत्रों में इंटरनेट की गति धीमी कर दी गई है. 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement